पिता को रुपए देने के लिए पत्नी ने बनाया दवाब तो पति ने चल डाली लूट की झूठी कहानी

पुलिस ने किया खुलासा, महाराजपुर थाना इलाके की लूट की दोनों घटनाएं निकली फर्जी
गाड़ी खरीदने के लिए पापा को देने के लिए पत्नी ने मांगे थे 2.70 लाख रुपए , दमाद ने ससुराल में रुतबा दिखाने के लिए गढ़ी लूट की कहानी

By: Dharmendra Singh

Published: 01 Mar 2020, 06:00 AM IST

छतरपुर। महाराजपुर थाना इलाके के टटम में होटल कर्मचारी के साथ लूट की वारदात झूठी निकली। पत्नी ने 2 लाख ७0 हजार रुपए मांगे तो कर्मचारी ने पत्नी और ससुराल की नजर में अपनी वेल्यू बनाए रखने के लिए रुपए लूट की कहानी रच डाली। लेकिन जब पुलिस ने मामले की जांच की तो बैंक से पता चला कि कर्मचारी के खाते से 30 सिंतबर से कोई राशि नहीं निकाली गई। पुलिस को शक हुआ और गहराई से जांच की तो पूरे मामले का खुलासा हुआ। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक समीर सौरभ ने प्रेसवार्ता कर लूट की झूठी कहानी और ऑटो चालक पर गोली चलाने वाले आरोपी को गिरफ्तार करने का खुलासा किया। इसके अलावा महाराजपुर थाना इलाके में नेगुंवा के पास लूट की कहानी भी फर्जी निकली।
श्वसुर को खरीदनी थी गाड़ी
छतरपुर के एक निजी होटल में काम करने वाले खजुराहो निवासी 31 वर्षीय काशीराम कुशवाहा ने महाराजपुर थाना में रिपोर्ट लिखाई कि, खजुराहो एसबीआइ बैंक से रुपए निकालकर ससुरराल गुंदारा जाते समय टटम के पास नहर की पुलिया पर 2 अज्ञात आरोपियों द्वारा 2 लाख 70 हजार रुपए लूट लिए गए। पुलिस ने मामले की जांच के दौरान खजुराहो के बैंक में पड़ताल की तो पता चला कि 30 सितंबर 2019 से काशीराम के खाते से रुपए नहीं निकाले गए। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले और काशीराम से पूछताछ की तो पता चला कि काशीराम के श्वसुर घंसू कुशवाहा निवासी गुंदारा को चारपहिया गाड़ी खरीदनी थी। पत्नी ने श्वसुर को गाड़ी खरीदने के लिए 2 लाख 70 हजार रुपए की मांग की। पत्नी रुपए के लिए लगातार दवाब बना रही थी। पत्नी व ससुराल की नजर में खुद को पैसे वाला बताने वाले कर्मचारी ने अपनी वैल्यू बनाए रखने के लिए लूट की झूठी कहानी रच दी। लेकिन पुलिस की जांच में झूठी कहानी का खुलासा हो गया।
पुलिस को बताई असली कहानी
काशीराम ने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी बार-बार उससे पैसे मांग रही थी। वह ससुराल में अपना रूतबा जमाना चाहता था इसलिए उसने खुद के साथ लूट की झूठी कहानी रची। इस खुलासे में एसपी कुमार सौरभ के निर्देश पर थाना प्रभारी महाराजपुर अरूण शर्मा व उपनिरीक्षक वीरेन्द्र सिंह, आरक्षक सुनील अरजरिया, बृजेश कुमार, दीपक, सुवेद, मिहीलाल एवं साइबर शाखा ने भूमिका निभाई।
दूसरी लूट भी निकली झूठी
महाराजपुर थाना इलाके के घेरापुरवा में बाइक सवार तीन आरोपियों ने एक युवक से कट्टे की नोक पर 2 हजार रुपए लूटने की शिकायत भी झूठी निकली है। नेगुंवा निवासी ईश्वर दयाल पिता हरि अहिरवार ने महाराजपुर थावा में शुक्रवार की रात 9 बजे शिकायत की, कि वह महाराजपुर से अपने गांव नेगुंवा अपने साथी अजय अहिरवार के साथ जा रहा था। जब वे 8.30बजे नेगुंवा के पहले घेरापुरवा के हनुमान मंदिर के पास पहुंचे तो बाइक सवार 3 लोग आए और कट्टा दिखाकर मारपीट करते हुए उसकी जेब में रखे 2 हजार रुपए निकाल कर फरार हो गए। पीडि़त की शिकायत पर पुलिस ने जांच की तो पता चला कि दोस्तों के साथ बैठकर शराब पीने के दौरान विवाद होने पर उसने फंसाने के लिे झूठी शिकायक कर दी।
गोली चलाने वाला गिरफ्तार
सिटी कोतवाली क्षेत्र के छोटी कुंजरहटी में विवाद के बाद ऑटोचालक पर गोली चलाने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। छोटी कुंजरेहटी निवासी ऑटो चालक रसीद राइन पुत्र इमामी के घर के बाहर ऑटो खड़ा था। गुरुवार की रात सलमान उर्फ शेरू व उसके साथी वहां पहुंचते हैं और ऑटो में बैठकर शराब पीने लगते है। जिस पर रसीद ने उन्हें आकर ऑटो पर शराब पीने मना किया। इस पर दोनों के बीच विवाद हो गया। रात में मामला सुलझ गया था। घायल रसीद ने बताया कि शुक्रवार की सुबह ९ बजे सलमान उर्फ शेरू एक बार फिर उसके घर पहुंचे और सीधा फायर कर दिया। जिसमें वह घायल हो गए थे।

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned