रक्तदान कर मरीज की बचाई जान

कोरोना के डर के बीच रक्तदान में आई है कमी, ब्लड बैंक भी हो रहे हैं प्रभावित

By: Samved Jain

Published: 29 May 2020, 09:00 AM IST

छतरपुर. कोविड-19 के संक्रमण के बीच रक्तदान भी प्रभावित हुआ है। जिसका असर ब्लड बैंकों में रक्त की निम्नता से दिखता है। ऐसी ही स्थिति छतरपुर में निर्मित होने के बाद एक युवक ने रक्तदान कर एक मरीज की जान बचाई है।
बताया गया है कि तीन दिनों से छतरपुर के मिशन अस्पताल में हरपालपुर निवासी 2& वर्षीय रचित ताम्रकार भर्ती है। हीमोग्लोविन काफी कम होने के कारण इलाज सफल नहीं हो पा रहा है। ऐसे में रचित के भाई ऋतिक ने एक यूनिट रक्त दिया। दोबारा जरूरत पडऩे पर युवा नितिन मराठा द्वारा रक्तदान किया गया। इसके बाद भी मरीज की तबियत सही नहीं हुई और ब्लड बैंक में आवश्यक रक्त ख़त्म हो गया। मरीज की बिगड़ती हालत को देखकर परिवार वाले परेशान हो गए। ऐसे समय में युवा रक्तदाता अंचल जैन द्वारा स्वे'छा से अस्पताल पहुंचकर रक्तदान किया और युवक की जान बचाई।
अंचल ने बताया की उनकी रुचि बचपन से ही असहाय की मदद करने की रही है। 9 वर्ष पहले कैंसर पीड़ा से उनकी मां का निधन हो गया था, तब से अंचल का जीवन मानवसेवा में समर्पित है। लगभग 25 बार रक्तदान वह कर चुके है। इसके बाद भी उनके शरीर में किसी प्रकार की कोई कमजोरी या शिथिलता नहीं है अचल के अनुसार रक्तदान करने के बाद उनका मन एकाग्रचित व शरीर में और Óयादा सेवा करने की ताकत प्राप्त होती है।

Show More
Samved Jain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned