सुविधाओं को तरस रहा 100 बिस्तरों का अस्पताल

सौंसर सिविल अस्पताल को 100 बिस्तर का दर्जा प्राप्त होने के बावजूद भी यहां विशेषज्ञों के पद रिक्त पड़े हैं।

By: arun garhewal

Published: 04 Apr 2019, 08:00 PM IST

छिंदवाड़ा. सौंसर. विगत लंबे समय से सिविल अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं संसाधन, की कमी के वजह से मरीजों को नागपुर - छिंदवाड़ा जाना पड़ रहा है। सौंसर सिविल अस्पताल को 100 बिस्तर का दर्जा प्राप्त होने के बावजूद भी यहां विशेषज्ञों के पद रिक्त पड़े हैं।
बीते 15 वर्षों मे सरकारें आईं और कईं पर सिविल अस्पताल में अब तक रिक्त पदों की पूर्ति नहीं की गई और न ही आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराए गए हैं।
सिविल अस्पताल सौसर में सही समय पर उपचार ना मिलने की वजह से मरीज एवं परिजनों को कई बार समस्याओं का सामना करना पड़ता है। वहीं कई मरीजों की तो हालत गंभीर होने पर नागपुर छिंदवाड़ा ले जाते समय ही दम तोड़ देते हैं। क्षेत्र की जनता सिविल अस्पताल सौसर में सौ बिस्त के दर्जा के तहत विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं संसाधन युक्त अस्पताल को लेकर लंबे समय से मांग करने के बावजूद भी अब तक सौसर सिविल अस्पताल सुविधायुक्त नहीं बन पाया है। सौसर सिविल अस्पताल को 100 बिस्तर का दर्जा प्राप्त है। वर्तमान में 30 से 40 बेड चल रहे हैं । विशेषज्ञ चिकित्सकों की कमी और संसाधनों की कमी पर ही अस्पताल चल रहा है। महिला वार्ड, पुरुष वार्ड, कुपोषित बच्चों के लिए वार्ड मे कुल मिलाकर 30 से 40 बिस्तरों से ही काम चलाया जा रहा है।

arun garhewal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned