105 स्वास्थ्य कर्मियों को लगी डमी कोरोना वैक्सीन, जानें वजह

- जिला अस्पताल, मोहखेड़, हर्रई समेत जमुनिया में किया गया ड्राय रन, लोगों में उत्साह और भय का दिखा प्रभाव

By: Dinesh Sahu

Published: 09 Jan 2021, 10:34 AM IST

छिंदवाड़ा/ कोरोना वैक्सीनेशन के पहले 105 स्वास्थ्य कर्मचारियों का ड्राय रन के तहत शुक्रवार को टीकारण किया गया। शासन की गाइडलाइन के तहत चयनित कुछ लोगों को एसएमएस तथा कुछ को मोबाइल पर फोन कर टीका लगाने के लिए उपस्थिति देने के निर्देश दिए गए। चिकित्सा अधिकारियों के मुताबिक ड्राय रन कार्यक्रम पूरी तरह सफल रहा तथा जो कमियां सामने आई उसे दुरुस्थ करना बताया गया है। इधर कुछ कर्मचारियों ने बताया कि वैक्सीनेशन को लेकर उत्साह और भय दोनों है।

इसकी वजह ऐसी वैक्सीन लगाना है, जिसके बाद के प्रभाव के संदर्भ में कुछ पता नहीं है। हालांकि सरकार और देश के वैज्ञानिकों पर पूरा भरोसा हैं। शासन के निर्देश और कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन के मार्गदर्शन में जिला अस्पताल के ट्रामा यूनिट, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मोहखेड़, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हर्रई तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जमुनिया (पिंडरईकलां) में सुबह 9 से दोपहर 1 बजे तक कोरोना प्रोटोकाल के तहत टीकाकरण किया गया। ड्राय रन अभियान के तहत प्रत्येक केंद्र में 5 वैक्सीन अधिकारियों को तैनात किया गया तथा चरणबद्ध तरीके से प्रक्रिया पूरी की गई।

बताया जाता है कि टीका लगाने पहुंचे सम्बंधित व्यक्ति का प्रथम चरण में थर्मल स्क्रीनिंग तथा आइडी पु्रफ की जांच की गई, दूसरे चरण में पोर्टल पर नाम एवं दस्तावेजों का सत्यापन किया गया तथा तीसरे चरण में वैक्सीन अधिकारी द्वारा टीका लगाया गया। चौथें चरण में पुन: दस्तावेजों का मिलान कर सम्बंधित को कोविड-19 टीकाकरण की जानकारी दी गई और पांचवें चरण में आधे घंटे तक व्यक्ति को आब्जर्वेशन में रखा गया।

प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुशील राठी, सिविल सर्जन डॉ. पी. कौर गोगिया, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एलएन साहू द्वारा ड्राय रन अभियान की समीक्षा और मॉनिटरिंग की गई है। इसके अलावा बीएमओ डॉ. केएस बजाज, डॉ. पीयूष शर्मा, डॉ. एलएनएस उइके, जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. हर्षवर्धन लोनकर, महेश माहेश्वरी, मनीष सिंह, प्रभारी बीपीएम श्याम शर्मा समेत अन्य प्रमुखता से मौजूद थे।


चिन्हित लोगों की संख्या बढ़कर हुई 12643 -


कोरोना संक्रमण काल में स्वास्थ्य कर्मचारियों समेत फ्रंटलाइन वर्कर, चिन्हित बुजुर्गों की संख्या बढ़कर 12 हजार 643 पहुंच गई है, जिनका पंजीयन को-विन पोर्टल पर अपडेट कर लिया गया है। जिला टीकाकरण विभाग से मिली जानकारी के अनुसार ड्राय रन में डेमो के रूप में 12 बॉयल और 105 डिस्पोजेबल सीरिंज उपयोग कर प्रोटोकाल के तहत नष्ट की गई। बताया जाता है कि जिले में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए 32 केंद्र बनाए गए है, जहां टीकाकरण के लिए 1400 बॉयल की आवश्यकता होगी तथा कार्यक्रम के लिए 499 वैक्सीनेटर को प्रशिक्षित कर लिया गया हैं।


अंग्रेजी में आ रहे एसएमएस के संदेश -


ड्राय रन के दौरान चिन्हित व्यक्तियों को पोर्टल से भेजे गए एसएमएस संदेश अंग्रेजी में प्राप्त हो रहे है, जिससे कई लोगों को वह समझ नहीं आ रहे है। इस वजह से विभाग ने शासन को हिन्दी में भी संदेश भेजने की अपील की हैं।

COVID-19
Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned