अब बैंक करेगा किसानों पर सख्ती

४० प्रतिशत ऋण वसूली का लक्ष्य

By: Rajendra Sharma

Published: 10 Feb 2018, 12:15 PM IST

- शाखा और संस्था प्रबंधकों की ऋण वसूली की समीक्षा बैठक

छिंदवाड़ा. जिला सहकारी केंद्रीय बैंक की सहकारी समितियों को इस माह के अंत तक ४० प्रतिशत ऋण वसूली का लक्ष्य दिया गया है।
शुक्रवार को महाप्रबंधक केके सोनी ने बैंक से सम्बद्ध जिले की समस्त शाखाओं के अंतर्गत आने वाली 145 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के कामों की समीक्षा की और अमानत वृद्धि और कृषि ऋण वसूली की प्रगति पर विस्तृत चर्चा की। उन्होंने कहा कि इस माह तक कम से कम ४० प्रतिशत ऋण वसूली होना चाहिए। बैठक के दौरान उन्होंने उपस्थित शाखा प्रबंधकों को अपने क्षेत्र अंतर्गत समितियों की नियमित ऋण वसूली की समीक्षा कर निर्धारित लक्ष्यों की पूर्ति करवानेे के साथ साथ किसानों को शासन की योजनाओं और बैंक की सुविधाओं की जानकारी देकर उसका लाभ उठाने उन्हें प्रेरित करने कहा। इसी के साथ अपने क्षेत्र की समितियों में भ्रमण कर वहां के कामकाज, स्वच्छता, रखरखाव किसानों को वितरित सूचना पत्रों की स्थिति का परीक्षण करने भी कहा गया।

अच्छे काम की प्रशंसा बाकी को सख्त निर्देश

समीक्षा के दौरान शाखा बिछुआ, हर्रई, अमरवाड़ा, दमुआ, जुन्नारदेव, लोधीखेड़ा, सौंसर की ऋण वसूली विगत वर्ष की तुलना में अधिक करने पर प्रशंसा करते हुए प्रशंसा पत्र जारी किया गया। वहीं शाखा पिपलानारायणवार, परासिया, कृषि शाखा, खैरीतायगांव की कृषि ऋण वसूली विगत वर्ष की तुलना में कम होने पर वसूली का काम और तेज करने के निर्देश दिए गए। चांद, चौरई, सिवनी, सिराठा, कुंडा, बनगांव, तिगांव, उमरानाला की वसूली विगत वर्ष की तुलना में पांच प्रतिशत से 24 प्रतिशत तक कम होने पर चिंता जताते हुए उन्हें 28 फरवरी तक सघन प्रयास कर कमी को पूरा करने के सख्त निर्देश दिए गए।

28 मार्च खरीफ सीजन की देय तिथि

सहकारी समितियों द्वारा वितरित खरीफ सीजन के ऋण की अदायगी तिथि 28 मार्च है। इस निर्धारित समयावधि में ऋण नहीं चुकाने पर ऋणी सदस्य को शासन की शून्य प्रतिशत ब्याज सहायता, मुख्यमंत्री कृषक सहकारी ऋण सहायता का लाभ नहीं मिल सकेगा। सहकारी समितियों से कहा गया है कि किसान सदस्यों के हितों को ध्यान में रखकर उनसे व्यक्तिगत सम्पर्क किया जाए और उन्हें ऋण चुकाने के लिए प्रेरित किया जाए।

Rajendra Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned