scriptचार लाख के एक करोड़ बनाने का दाबा करने वाला ठग गिरोह धराया | Patrika News
छिंदवाड़ा

चार लाख के एक करोड़ बनाने का दाबा करने वाला ठग गिरोह धराया

हर्रई पुलिस ने गिरोह के तीन आरोपियों को सिवनी से दबोचा, नकदी व वाहन जब्त, बटकाखापा तिराहे पर की थी वारदात

छिंदवाड़ाJun 22, 2024 / 12:58 pm

Jitendra Singh Rajput

chhindwara police

chhindwara police

छिंदवाड़ा. जिले की हर्रई पुलिस ने रुपए कई गुना डबल करने वाले गिरोह को दबोचा है, इस गिरोह ने नरसिंहपुर जिले के करेली में रहने वाले परिवार से चार लाख रुपए लिए तथा दावा किया था कि वह उन रुपयों का एक करोड़ रुपए बना देगा। हर्रई में बटका तिराहा पर आठ लाख रुपए लेकर गिरोह फरार हो गया जिसकी शिकायत हर्रई पुलिस को की गई थी। पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल धारा 420 का प्रकरण दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरु कर दी तथा वारदात के 48 घंटे के भीतर पुलिस ने वारदात के तीन आरोपियों को सिवनी से दबोचा है। इस गिरोह का एक आरोपी अभी फरार है जिसकी तलाश पुलिस कर रही है। गिरोह के पकड़े जाने के बाद पुलिस अधीक्षक मनीष खत्री ने कंट्रोल रुम में प्रेसवार्ता कर जानकारी दी है।
  • साड़ी ईनाम में देने की बात की पहले

  • नरसिंहपुर के करेली थाना अंतर्गत ग्राम धमेटा कछार निवासी गौरव (26) पिता तीरथ कहार के घर के सामने सभी आरोपी 14 जून को कार से निकले थे, इस दौरान किसी ईनामी योजना में साड़ी देने की बात कर रहे थे। इसी दौरान पीडि़त गौरव कहार की मां से मुलाकात हुई तथा साड़ी ईनाम में देने की बात करते हुए आरोपी सीमा (32) पिता रामेश्वर गौंड, छत्रपाल (30) पिता बिंदरा गौंड तथा एक अन्य निवासी ग्राम शाहगढ़ सागर ने महिला के परेशान होने की बात की थी। जिसके बाद आरोपियों ने किसी दादाजी का नाम बताते हुए उनसे महिला की बात कराई थी। बातों-बातों में पैसे डबल करने की बात की तथा एक मोबाइल नंबर महिला को दिया तथा फोन लगाने के लिए कहा था। अगले दिन महिला ने फोन लगाया तो आरोपियों ने 15 जून को सागर के प्रिंस होटल में मिलने के लिए बुलाया। पीडि़त परिवार होटल प्रिंस पहुंचा तो आरोपियों ने उन्हें अपनी बातों में फंसाकर रुपए डबल करने की बात कर अपने भरोसे में ले लिया।
  • मीटिंग में एक हजार के दो हजार कर दिए

  • आरोपियों ने जब गौरव कहार तथा उसकी मां से सागर के होटल प्रिंस में मुलाकात की तो इसी दौरान आरोपियों के साथी जो दादाजी बनकर आया था, रामेश्वर (45) पिता निर्भय गौंड निवासी शाहगढ़ सागर ने अपने जेब से पांच सौ रुपए के दो नोट निकाले तथा हाथ की सफाई से उन दो नोट को चार कर दिया। जिसके बाद आरोपियों ने पैसे डबल करने की बात करते हुए कहा कि अगर वह उन्हें चार लाख रुपए देंगे तो वह एक करोड़ तथा अगर आठ लाख रुपए देंगे तो दो करोड़ रुपए कर देंगे।
  • 18 तारीख को बटका तिराहे पर मिलने बुलाया

  • आरोपियों ने प्रिंस होटल में मुलाकात के बाद पीडि़त परिवार को 18 तारीख को हर्रई थाना क्षेत्र के बटका तिराहे पर पैसे लेकर आने के लिए कहा था। जब पीडि़त की उन आरोपियों से मुलाकात हुई तो आरोपियों ने चार लाख रुपए के बदले एक बॉक्स दिया था तथा कहा कि उसमें एक करोड़ रुपए है तथा पांच मिनिट में वह आ रहे है। आरोपियों के जाने के बाद जब वह वापस नहीं आए तो पीडि़त पक्ष ने बॉक्स खोला तो उसमें कागज भरा हुआ था। ठगी का शिकार होने के बाद पीडि़त पक्ष हर्रई थाना शिकायत करने पहुंचे थे।
  • आरोपियों से दो लाख नौ हजार 500 रुपए जब्त

  • शिकायत के बाद हरकत में आई पुलिस ने सायबर की मदद से आरोपियों की तलाश व पीछा करना शुरु कर दिया। पुलिस ने तकनीकी सहयोग से सीमा गौंड, उसके पति रामेश्वर गौंड तथा छत्रसाल गौंड को सिवनी जिले के आदेगांव से पकड़ा है जबकि उनका एक साथी अभी फरार है। इस गिरोह को पकडऩे वाली टीम में अमरवाड़ा एसडीओपी रविंद्र मिश्रा, हर्रई थाना प्रभारी ओमेश मार्को, एसआई टीडी धार्वे, पंकज राय, आरक्षक आशीष साहू, महिला आरक्षक रक्षा बकोड़े, शिखा बघेल, सायबर सेल आरक्षक नितिन राजपूत की मुख्य भूमिका रही है। ठगी करने वाले गिरोह को पकडऩे वाली टीम को पुलिस अधीक्षक ने दस हजार रुपए ईनाम देने की घोषणा की है।

Hindi News/ Chhindwara / चार लाख के एक करोड़ बनाने का दाबा करने वाला ठग गिरोह धराया

ट्रेंडिंग वीडियो