Achievement: इस वजह से मंदिर का वल्र्ड बुक ऑफ रिकॉड्स में दर्ज हुआ नाम

लगभग 3 लाख 55 हजार भोग पैकेटों के वितरण किया गया था।

By: ashish mishra

Published: 21 Jul 2021, 01:11 PM IST


छिंदवाड़ा. कोरोना की दूसरी लहर में श्री बड़ी माता मंदिर ट्रस्ट द्वारा चलाए गए सबसे बड़े जन सहायता भोग अभियान का प्रतिसाद मिल गया है। श्री बड़ी माता मंदिर का नाम वल्र्ड बुक ऑफ रिकॉड्स में शामिल किया गया है। मंदिर ट्रस्ट द्वारा लगभग 3 लाख 55 हजार भोग पैकेटों के वितरण किया गया था। इस महाअभियान को सम्मान देते हुए वल्र्ड बुक ऑफ रिकॉड्स संस्था ने अपने वल्र्ड बुक रिकॉर्ड में श्री बड़ी माता मंदिर ट्रस्ट का नाम दर्ज किया है। यह उपलब्धि छिंदवाड़ा जिले ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश के लिए गौरव का विषय है। इस अभिनव प्रयास में मन्दिर ट्रस्ट की युवा टीम के मीडिया प्रभारी गौरव सोनी, तरुण सोनी ने विगत एक माह में कार्यक्रम की जानकारी को एक डाटा के रूप में एकत्रित किया। वहीं ट्रस्ट की रचनात्मक एवं सामाजिक उपसमिति के ऋषभ स्थापक एवं शिरिन आनंद दुबे ने वल्र्ड बुक रिकॉर्ड की समस्त ऑनलाइन प्रक्रिया के कार्यों को मूर्त रूप दिया। सामूहिक रूप से मन्दिर ट्रस्ट के हर एक सेवादार ने अपनी प्रमुख भूमिका निभाई। जिसके फल स्वरूप छिंदवाड़ा तथा मंदिर ट्रस्ट के नाम यह गौरवपूर्ण उपलब्धि हासिल हुई। ट्रस्ट अध्यक्ष संतोष सोनी एवं सचिव राजू चरणागर ने बताया कि 28 अप्रैल से 31 मई तक जन सहायता भोग अभियान चलाया गया था। 250 सेवादारों की टीम ने जन सहायता भोग को अभूतपूर्व बनाया। इसके अलावा भी ट्रस्ट द्वारा संक्रमण के रोकथाम के लिए विभिन्न गतिविधियां की गई।

ashish mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned