वर्षों बाद बड़ी कार्रवाई, लाखों की वसूली से ट्रैवल एजेंसियों में मचा हडक़म्प

वर्षों बाद बड़ी कार्रवाई, लाखों की वसूली से ट्रैवल एजेंसियों में मचा हडक़म्प
Action of Transportation Department and Traffic Department

Prabha Shankar Giri | Updated: 03 Jun 2019, 07:00:00 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

परिवहन विभाग और यातायात की टीम ने की संयुक्त कार्रवाई

छिंदवाड़ा. परिवहन आयुक्त ग्वालियर एवं छिंदवाड़ा कलेक्टर के निर्देश पर परिवहन विभाग और यातायात की टीम संयुक्त कार्रवाई कर रही है। अवैध तरीके से संचालित यात्री वाहनों पर कार्रवाई कर वाहन जब्त किए गए हैं।
रविवार को जब्त किए गए वाहनों से परिवहन विभाग की टीम करीब 12 लाख 5 हजार रुपए का समन शुल्क वसूल करेगी। शहर के भीतर कुछ सडक़ों पर अमले ने वाहन रोककर जांच की। बताया जा रहा है कि आगे भी इस तरह की कार्रवाई जारी रहेगी।

Action of Transportation Department and Traffic Department
patrika IMAGE CREDIT:


टीम ने नागपुर रोड, परासिया रोड, अमरवाड़ा रोड, बस स्टैंड, सिवनी रोड एवं यातायात थाने के सामने कार्रवाई की। लगभग 50 से 60 बसों की जांच की। मप्र मोटरयान कर, बिना फिटनेस वाहनों को जब्त किया गया।
परिवहन अधिकारी सुनील कुमार शुक्ला ने बताया कि छिंदवाड़ा से पांढुर्ना संचालित साईं कृपा ट्रेवल्स की बस क्रमांक एमपी 28 पी 0207 बिना टैक्स व फिटनेस होने पर जब्त कर यातायात थाना में खड़ी कराई गई।
नागपुर से सागर संचालित विजयंत ट्रेवल्स की बस क्रमांक एमएच 22 एफ 9990 पिछले चार माह से बिना टैक्स जमा किए चल रही थी। वाहन चालक से 63 हजार रुपए टैक्स एवं समन शुल्क पांच हजार वसूला गया। जुन्नारदेव से रायपुर संचालित कांकेर ट्रेवल्स की बस क्रमांक सीजी 19 एफ 6300 बिना टैक्स संचालित हो रही थी। इससे 6 हजार 8 सौ रुपए टैक्स व समन शुल्क 5 हजार 5 सौ रुपए वसूला गया।

 

Action of Transportation Department and Traffic Department
patrika IMAGE CREDIT:


स्पीड गवर्नर मिले बंद
परिवहन अधिकारी शुक्ला ने बताया कि अन्य राज्य की जेसीबी क्रमांक एमएच 09 सीएल 0775 बिना टैक्स व फिटनेस संचालित की जा रही थी। उसे जब्त कर परिवहन कार्यालय में खड़ा कराया गया है। लगभग 30 से 40 यात्री वाहनों के स्पीड गवर्नर बंद मिले, जिन पर कार्रवाई की गई।
चालकों पर निर्धारित वर्दी में न होने पर चालान काटे गए। परिवहन अमले ने मोटर व्हीकल एक्ट के अंतर्गत अन्य अपराध जिनमें चालक परिचालक वर्दी में ना होना, बिना लाइसेंस, पीयूसी, बिना रजिस्ट्रेशन, बिना बीमा, बिना फिटनेस एवं परमिट शर्तों का उल्लंघन व स्पीड गवर्नर से छेड़छाड़ करने पर वाहन स्वामी एवं बस संचालकों को यात्री वाहन का फिटनेस निरस्त करने की चेतावनी दी। टीम जब्त वाहन से लगभग 12 लाख 5 हजार रुपए समन शुल्क वसूल करेगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned