राशन दुकानों से मांगे जा रहे बारदाने

लगातार बैठक कर रहे कलेक्टर, केंद्रों का भी किया निरीक्षण


छिंदवाड़ा / जिले में इस बार बारदाने को लेकर हुई अव्यवस्था ने प्रशासन को हलकान कर दिया है। कलेक्टर ने गुरुवार को फिर उपार्जन से जुड़े विभागों की बैठक ली और कहा कि फिलहाल जिले में जो बारदाने उपलब्ध हैं उनमें गेहूं भरा जाए। जब नान बारदाने उपलब्ध कराएगा तब अनाज उनमें ट्रांसफर किया जाए। किसानों के पास भी यदि जूट के बारदाने हैं तो वे भी उपयोग में लाए जा सकेंगे। उन्होंने आपूर्ति विभाग को भी सिंगल यूज बारदानों को स्थानीय स्तर पर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए, ताकि जब तक नए बारदाने नहीं आते उपार्जन कार्य में रुकावट न आए। इसके अलावा किसान जिस बोरी में भरकर अनाज लाएगा
उसी में फिलहाल अनाज तौला जाएगा, लेकिन उसकी सिलाई नहीं की जाएगी।
समितियों से कहा गया है कि किसानों के बारदानों में यह देखा जाए कि वह फटे न हों। इधर, जिला आपूर्ति विभाग जूट के सिंगल यूज बोरों की व्यवस्था दिनभर करता दिखा। जिले की राशन दुकानों से भी बोरों को इक_ा कराया जा रहा है ताकि उन्हें समितियों को उपलब्ध कराया जा सके।
मिली जानकारी के अनुसार मंडला से चार सौ गठानें बुलाई जा रहीं हंै। एक दो दिन में यह बारदाने जिले में उपलब्ध हो जाएंगे।

पूरी खरीदी के आंकड़े दर्ज कराने के निर्देश
कलेक्टर ने गुरुवार को 16 अप्रैल के बाद से आज दिनंाक तक की पूरी खरीदी के आंकडे पोर्टल पर दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं। गुरुवार को पूरे दिन समितियों में गेहूं खरीदी का आंकड़ा और उसमें उपयोग में लाए गए बारदाने की जानकारी अपडेट की जाती रही। कलेक्टर ने सभी एसडीएम और तहसीलदारों को भी उपार्जन केंद्रों पर जाकर वहां व्यवस्थाएं बनाने के साथ सभी समिति प्रबंधकों से दो दो घंटे में खरीदी की जानकारी उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए।

Show More
chandrashekhar sakarwar Photographer
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned