Corona effect: 23 मार्च से कृषि उपज मंडी भी बंद

थोक सब्जी मंडी में भी काम होगा प्रभावित

 

By: sandeep chawrey

Published: 19 Mar 2020, 06:12 PM IST

छिंदवाड़ा. कृषि उपज मंडी के व्यापारियों ने भी एकमत होकर निर्णय लेते हुए कोरोना वारयस के प्रति सचेत रहते हुए सोमवार 23 मार्च से मंडी में अनाज की खरीदी न करने का फैसला लिया है। इस संबंध में मंडी प्रबंधन और प्रशासक को मौखिक रूप से जानकारी दी जा चुकी है। अनाज व्यापारी संघ के अध्यक्ष प्रतीक शुक्ला ने बताया कि मंडी के सभी लाइसेंसी व्यापारियों और संघ के पदाधिकारियों ने बैठक लेकर सर्वसम्मति से 23 मार्च से 2 अप्रैल तक नीलामी में भाग न लेने का निर्णय लिया है। देखा जाए तो शनिवार-रविवार को भी मंडी में काम नहीं होता है इस हिसाब से लगभग एक पखवाड़े तक मंडी का कामकाज भी कोरोना वायरस के चलते प्रभावित होगा। शुक्ला ने बताया कि गुरुवार को मंडी आए प्रशासक एसडीएम से मौखिक रूप से अवगत करा दिया गया है। इस संबंध में एसडीएम अतुलसिंह से बातचीत की तो उन्होनें बताया कि मंडी परिसर में दिनभर आवाजाही रहती है। पूरे जिले के व्यापारियों के साथ, वाहन चालक, किसान और एक हजार से ज्यादा हम्माल यहां काम करते हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए एहतियात के तौर पर प्रशासन कदम उठा रहा है। उन्होंने बताया कि 15 अप्रैल तक इस संबंध में सावधानी बरती जानी बेहद आवश्यक है। उन्होनें बताया कि इस संबंध में एक दो दिन में निर्णय ले लिया जाएगा।

सब्जी मंडी भी होगी बंद

प्रशासन यदि बंद करने का निर्णय लेता है तो गुरैया स्थित सब्जी मंडी में भी सब्जियों की खरीदी फरोख्त का काम बंद हो जाएगा। गौरतलब है जिले से बड़ी संख्या में सब्जियां छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र जाती हैं तो वहां के अलावा प्रदेश के दूसरे शहरों से और यूपी से भी सब्जियों की आपूर्ति होती है। कोरोना के चलते सब्जी की थोक मंडी में व्यापार प्रभावित होगा। कोरोना के चलते आगामी एक महीने तक सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासन कड़े कदम उठा रहा है।

-------

sandeep chawrey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned