आज से शुरू हो रही है अमरनाथ यात्रा, श्रद्धालुओं से जानें अनुभव

किसी ने 16 तो किसी ने 20 बार की हैं अमरनाथ की यात्रा

By: Rajendra Sharma

Published: 01 Jul 2019, 11:32 AM IST

विशेष धार्मिक यात्रा
छिंदवाड़ा. यह एक धार्मिक यात्रा तो है ही साथ में रोमांच और आस्था की एक अलग अनुभूति की भी। व्यक्ति कठिन धार्मिक यात्रा अपने पूरे जीवन में एक या दो बार करता है लेकिन कहते हैं कि यहां एक बार दर्शन के लिए कोई आ गया तो फिर दोबारा वह आता नहीं बल्कि बाबा उसे स्वयं बुलाते हैं। हम बात कर रहे हैं हम अमरनाथ यात्रा की।
यहां प्राकृतिक रूप से बनने वाले हिमानी शिवलिंग के दर्शन करने के लिए हर साल पूरी दुनिया से असंख्य यात्री पहुंचते हैं। छिंदवाड़ा जिले के शिवभक्तों में इस यात्रा को लेकर एक अलग ही ललक दिखाई देती है। यही कारण है कि जिले से हजारों यात्री बर्फानी बाबा के दर्शन कर चुके हैं लेकिन कुछ ऐसे हैं जो एक या दो बार नहीं बल्कि 10 से ज्यादा बार यहां पहुंचे हैं। कुछ तो 16 से 20 बार तक बर्फ की पहाडिय़ों के बीच बाबा बर्फानी के दर्शन कर चुके हैं। इन भक्तों को कहना है कि यहां पहुंच गए तो ऐसा लगता है कि मानो स्वर्ग में आ गए हों।
शहर के रविंद्र सोनी सबसे पहले 1999 में यहां गए थे। उसके बाद से वे दो तीन साल छोड़ दें तो वे लगातार इस यात्रा को करने पहुंचे। वे 16 बार यहां दर्शन कर चुके हैं। उनका कहना है कि कुछ जगह ऐसी होती है जहां एक अलग ही अनुभूति होती है मानों ईश्वर स्वयं वहां विद्यमान हैं। अमरनाथ एक ऐसी ही जगह है। पहली बार पहुंचे उसके बाद तो ऐसी ललक लगी कि फिर जाने को मन हुआ। 16 बार यात्रा कर चुका हूं लेकिल वहां फिर जाने की इच्छा है।
कई बार महादेव के इस अद्भुत शिवलिंग के दर्शन कर चुके रंजन साहू कहते हैं जो वहां महसूस होता है वह शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। ध्यान रहे रंजन साहू का अमरनाथ की यह 14वीं यात्रा है। उनका कहना है कि यहां सुखद अनुभूति होती है। वहां का पवित्र वातावरण मन को शांति प्रदान करता है। ऐसा लगता है जैसे भगवान महादेव साक्षात यहां उपस्थित हैं। शहर के प्रकाश साहू और आनंद चौरसिया भी 10 से ज्यादा बार बाबा के दर्शन कर चुके हैं।

amarnath yatra experience

14 बार अमरनाथ जा चुके हैं

शिवशक्ति सेवा मंडल से जुड़े सक्रिय सदस्य कृष्णा सेठिया भी 14 बार अमरनाथ जा चुके हैं। वे अब तक 11 हजार यात्रियों को वहां जाने का पंजीयन भी करा चुके हैं। वे कहते हैं बाबा का यह स्थल अद्भुत है। रोमांचकारी यात्रा के बाद यहां पहुंचों तो थकान मिट जाती है। सकारात्मक उर्जा आपके मन विचारों को बदलकर रखदेती है। क्या महसूस होता है इसे तो वहां पहुंचकर और बाबा के दर्शन कर के ही महसूस किया जा सकता है।
आज दर्शन करेगा पहला जत्था- जिले से आठ लोगों का गया पहला जत्था सोमवार को बाबा बर्फानी के दर्शन करेगा। इसमें मंडल के वरिष्ठ सदस्य डॉ. गोपाल जायसवाल भी हैं। डॉ. जायसवाल की यह 20 वीं अमरनाथ यात्रा है। वे इसे साक्षात महादेव की कृपा ही बताते हैं। उनका कहना पड़ा कि मैं नहीं जाता महादेव स्वयं बुलाते हैं और हम चल पड़ते हैं। ध्यान रह इस बार जिले से 550 से ज्यादा यात्रियों ने अपना पंजीयन यहां के लिए कराया है।

Rajendra Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned