सोसायटी ही खरीदेगी गेहूं

सोसायटी ही खरीदेगी गेहूं
Arrangement of wheat procurement in Chhindwara

Prabha Shankar Giri | Updated: 01 Apr 2019, 11:22:20 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

व्यवस्था: आठ तहसीलों की 33 समितियों को गोदामों से जोड़ा गया

छिंदवाड़ा. जिले की 13 तहसीलों में समर्थन मूल्य की खरीदी के लिए बने 104 केंद्रों में से पांच तहसीलों की 27 समितियां अपने केंद्रों पर ही गेहूं खरीदेंगी। इसके बाद बाकी बची आठ तहसीलों की 71 समितियों में से 33 समितियों को गोदामों से जोड़ा गया है। वेयर हाउस में इन केंद्रों के कर्मचारी बैठेंगे, वहीं से गेहूं की खरीदी करेंगे और उसका भंडारण भी उन्हीं वेयरहाउस के गोदामों में होगा। गेहूं खरीदी के लिए सरकार की ओर से 25 मार्च से खरीदी शुरू करने के निर्देश हुए हैं। प्रदेश के ज्यादातर जिलों में खरीदी अभी शुरू नहीं हुई है। यहां सोमवार एक अप्रैल से खरीदी का काम शुरू होने की उम्मीद है। पिछले साल की तरह इस बार भी जिले में कुछ समितियों को गोदामों से सीधे जोड़ा गया है। जिले की सौंसर, हर्रई, बिछुआ, परासिया, जुन्नारदेव और उमरेठ तहसील की सभी 27 समितियों को उन्हीं के यहां खरीदी करने को कहा है। जुन्नारदेव, सौंसर और हर्रई में चार-चार समितियां हैं जबकि परासिया में छह और उमरेठ में आठ केंद्र संचालित हैं।
सबसे ज्यादा 18 केंद्र छिंदवाड़ा में
जिले में सबसे ज्यादा 18 खरीदी केंद्र छिंदवाड़ा के हैं। इसके बाद मोहखेड़ में 14 केंद्र हैं। अमरवाड़ा, चांद और चौरई मेें 10-10 केंद्र तो पांढुर्ना में सात और जामई में 4 केंद्र हैं। इन तहसीलों की कुछ समितियों को गोदामों से जोड़ा गया है। अमरवाड़ा, चौरई के चार-चार केंद्र, पांढुर्ना के पांच, मोहखेड़ के सात और छिंदवाड़ा के 10 केंद्रों की खरीदी गोडाउन से होगी। चांद की दो और तामिया के एक समिति को भी इसमें शामिल किया गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned