सागौन के पेड़ों पर धड़ल्ले से चल रही कुल्हाड़ी

सागौन के पेड़ों पर धड़ल्ले से चल रही कुल्हाड़ी
सागौन के पेड़ों पर धड़ल्ले से चल रही कुल्हाड़ी

SACHIN NARNAWRE | Updated: 21 Sep 2019, 05:10:47 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

र्तमान में पूरे विकासखंड में देखे तो कई जगह जंगलों के पेड़ों में कुल्हाड़ी चली दिखाई दे रही है।

जुन्नारदेव/हनोतिया. वर्तमान में पूरे विकासखंड में देखे तो कई जगह जंगलों के पेड़ों में कुल्हाड़ी चली दिखाई दे रही है। ग्राम पंचायत जुन्नारदेव विशाला सहित पदम पठार और गारादेही के जंगलों में इन दिनों जमकर कुल्हाड़ी चल रही है। यहां पर सागौन के दर्जनों पेड़ों पर कुल्हाड़ी चलाई गई है जो विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की कार्यप्रणाली पर संदेह कर रही है।
जुन्नारदेव विशाला सहित पदम पठार और गारादेही के जंगलों में इन दिनों माफिया की नजर कीमती सागौन के पेड़ों पर है जहां पर रोजाना जंगल में सागौन के हर-भरे पेड़ों पर धड़ल्ले से कुल्हाड़ी चल रही है। पेड़ अवैध कटाई और वन विभाग की चुप्पी इनकी कार्यवाहीं को संदेह के घेरे में लाकर खड़ा कर रहा है।
विशाला सहित आसपास के क्षेत्रों में रोजना सागौन के पेड़ों का कत्लेआम किया जा रहा है इसके बाद भी सागौन तस्करों का कोई भी सुराग वन विभाग को नहीं मिलता है जिससे स्पष्ट होता है कि वन विभाग की मौन स्वीकृति भी इन्हें प्राप्त है। फिलहाल उच्चाधिकारियों को इस मामले को संज्ञान में लेने की आवश्यकता है। इस सम्बंध में क्षेत्र के डिप्टी रेंजर दीनानाथ तिवारी का कहना है कि उन्हें इस सम्बंध में कोई जानकारी नहीं है। उनके अधीनस्थ कर्मचारी बीट का काम देखते है।
क्षेत्र का जंगल लगभग 20 किमी की परिधि में फैला हुआ है। वहीं सागौन के पेड़ों की भी अधिकता है। मैं एक ही वनरक्षक यहां पदस्थ हूं वहीं सुरक्षा के कोई पुख्ता इंतजाम नहीं है ।
कृष्णा अग्रवाल वनरक्षक

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned