Video viral: खूब रोए आयुष अधिकारी, कहा-ऐसे में दे देंगे इस्तीफा

तहसीलदार पर कोरोना सैम्पलिंग में दबाव बनाने का आरोप

By: prabha shankar

Published: 07 May 2021, 11:43 AM IST

छिंदवाड़ा। तामिया में पदस्थ आयुष अधिकारी डॉ.चिरंजीवी पवार का वीडियो गुुरुवार को सोशल मीडिया में वायरल हो गया। इस वीडियो में डॉॅ.पवार ने कहा कि वे तामिया तहसीलदार मनोज चौरसिया की कथित टिप्पणी से आहत है। उन पर कोरोना संक्रमण की प्रतिदिन सौ सेम्पलिंग का दबाव बनाया जा रहा है। जबकि उनके पास स्टाफ नहीं है। वे खुद आईडी जनरेट करने से लेकर सेंपलिंग का काम खुद करते हैं। वे रोते हुए कह रहे हैं कि वे ऐसी स्थिति में इस्तीफा दे देंगे। फिलहाल उन्होंने अपने अधिकारी बीसीएम को पूरे मामले से अवगत करा दिया है।
इस वीडियो के वायरल होने के बाद पत्रिका से बातचीत में डॉ.पवार ने कहा कि वे और उनकी टीम दिन रात फील्ड पर मेहनत कर रही है। ग्रामीणों द्वारा इनकार करने के बावजूद अभी तक 6 हजार सेम्पल ले चुके हैं। तामिया अस्पताल की ओपीडी भी देखते हैं। इसके बावजूद तहसीलदार की टिप्पणी नागवार गुजरी। वे इसकी शिकायत कलेक्टर और एसडीएम को भी करेंगे। इस संबंध में तहसीलदार मनोज चौरसिया से बातचीत के प्रयास किए गए। मोबाइल न लगने पर उनका पक्ष नहीं रखा जा सका।

यदि कोविड वार्ड में मिले परिजन तो सीधे करेंगे क्वॉरंटीन
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.जीसी चौरसिया, सिविल सर्जन डॉ. पी गोगिया और आरएमओ डॉ.संजय राय द्वारा गुरुवार को कोविड-19 आइसोलेशन वार्ड का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान कोविड पॉजिटिव व्यक्तियों के परिजन भी वहां मौजूद पाए गए, जिन्हें समझाइश देकर कोविड-19 वार्ड से बाहर किया गया। साथ ही यह भी व्यवस्था की गई कि अगर कोविड-19 मरीज के परिजन वार्ड में पाए गए तो उन्हें संस्थागत क्वारंटीन किया जाएगा। जिला अस्पताल में कोविड मरीजों के लिए अस्पताल प्रबंधन द्वारा पौष्टिक आहार एवं गुणवत्तापूर्ण भोजन की व्यवस्था मरीजों के लिए सुनिश्चित की गई है, अत: परिजनों द्वारा लाया गया भोजन अब वार्ड में नहीं भेजा जाएगा। इसकी व्यवस्था की जा रही है।

prabha shankar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned