गड्ढों में तब्दील मोहखेड़ की सडक़ें

मोहखेड़ विकासखंड की सडक़ें गड्ढों में तब्दील हो गई हैं जिस पर वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना दूभर है।

By: Sanjay Kumar Dandale

Published: 10 Apr 2019, 07:00 PM IST

मोहखेड़. मोहखेड़ विकासखंड की सडक़ें गड्ढों में तब्दील हो गई हैं जिस पर वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना दूभर है।
उमरानाला से सांवरीबाजार 38 करोड़ 40 लाख रुपए एवं बिछुआ से तंसरामाल की सडक़ के लिए 30 करोड़ रुपए स्वीकृत हुई थी। किंतु आज तक इन दोनों सडक़ों कार्य प्रारंभ नहीं हो सका है। इन सडक़ों पर बड़े-बड़े गड्ढे हैं जिन पर वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना भी दूभर है। ऐसे में आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। छिंदवाड़ा-नागपुर हाइवे से होकर गुजरने वाला मार्ग जो खेड़ी मोहखेड़ होते हुए पालखेड़, रजाड़ा से सांवरीबाजार होते हुए बैतूल मार्ग से जुड़ता है।
इस मार्ग से करीब रोजाना 300 से 400 सवारी वाहन एवं हजारों दोपहिया वाहन चालक निकलते हैं, लेकिन इस मार्ग का चौड़ीकरण नहीं हुआ है। कई बार जागरूक नागरिकों ने प्रशासनिक अधिकारियों एवं नेताओं से सडक़ निर्माण कार्य प्रारंभ करने की मांग की है, लेकिन सडक़ का निर्माण कार्य आज तक पूर्ण नहीं किया गया। कई बार मरम्मत किया गया, लेकिन वह फिर उखड़ जाता है।

Sanjay Kumar Dandale
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned