भावांतर का भंवर तोड़ेगा ये सरकारी फार्मूला

prabha shankar

Publish: Nov, 15 2017 11:28:27 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
भावांतर का भंवर तोड़ेगा ये सरकारी फार्मूला

मंडी ने छपवाए पांच हजार फोल्डर, मंडी में आने वाले किसानों को किए जाएंगे वितरित

छिंदवाड़ा. मंडी बोर्ड ने भांवातर योजना में मिलने वाले फायदे, अब तक विभिन्न अनाजों के माडल दाम और अन्य जानकारियों से संबंधित एक फोल्डर तैयार किया है। पांच हजार फोल्डर छपवाए गए हैं। यह फोल्डर मंडियों में आने वाले किसानों को बांटे जाएंगे ताकि वे भुगतान योजना को समझ सकें। योजना के अंतर्गत किसानों केा अनाज बेचने के बाद कैसे फायदे की राशि मिलेगी यह उदाहरण सहित समझाया भी गया है। फोल्डर में कौन सी फसल किस तारीख तक बिकनी है और अक्टूबर तक समर्थन मूल्य और माडल विक्रय दर की राशि की राशि प्रति क्विंटल किस अनाज पर कितनी मिलनी यह भी बताया गया है। मंडी सचिव राजेश द्विवेदी ने बताया कि भावांतर योजना में किसानों को किस तरह का फायदा पहुंचेगा यह समझाना जरूरी है और फोल्डर इसीलिए तैयार किए गए हैं। किसान इसे पढक़र योजना और उससे मिलने वाले लाभ को समझ सकेंगे।


अक्टूबर में यह आया अंतर
सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य और भांवातर में मिले अनाजों के मूल्य से तय हुए माडल रेट के बीच जो अंतर अक्टूबर तक मिला है उसके अनुसार तय अंतर की राशि किसानों को देना तय किया गया है। इसके अनुसार सोयाबीन में 470 रुपए प्रति क्विंटल, मक्का में 235 रुपए प्रति क्विंटल, मंूग में 1455 रुपए प्रति क्विंटल, मूंगफली में 730 रुपए प्रति क्विंटल और उड़द में 2400 रुपए प्रति क्विंटल की राशि किसानों के खाते में जमा की जाएगी।

इन तारीखों तक होना है बिक्री
भावांतर भुगतान योजना में विभिन्न अनाजों की बिक्री के लिए तारीखें तय की गई है। सोयाबीन 16 अक्टूबर से 31 दिसंबर तक, मूंगफली, तिल और रामतिल के साथ मूंग और उडद 16 अक्टूबर से 15 दिसंबर तक, मक्का १६ अक्टूबर से 31 जनवरी तक और तुअर या अरहर 01फरवरी 2018 से 30 अप्रैल 2018 तक मंडी परिसरों में खरीदी जाएगी।
———
निगम की दुकानों को नहीं मिले खरीदार
छिंदवाड़ा ञ्च पत्रिका. मंगलवार को निगम की 25 दुकानों के लिए आम नीलामी की जानी थी, लेकिन निगम की 12 लाख90 हजार की एक ही दुकान बिकी। जेल बगीचा के शॉपिंग कॉम्प्लैक्स क्रंमाक दो में विकलांग कोटे के लिए रिजर्व दुकान नम्बर १७ की ही नीलामी हो सकी। शेष 24 दुकानों के लिए कोई खरीदार नहीं आया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned