बोर्ड परीक्षा का ब्लू-प्रिंट तैयार...ऐसा होगा 70 फीसदी पाठ्यक्रम, पढ़ें पूरी खबर

तीस फीसदी होंगे वस्तुनिष्ठ तो दीर्घ उत्तरीय नहीं पूछे जाएंगे प्रश्र, माध्यमिक शिक्षा मंडल ने इस वर्ष किया बदलाव

By: Dinesh Sahu

Published: 29 Dec 2020, 11:10 AM IST

छिंदवाड़ा/ माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल ने सत्र 2020-21 की वार्षिक परीक्षाओं के पैटर्न में बदलाव किया है, जिसके तहत कक्षा दसवीं एवं बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं नए ब्लू प्रिंट के आधार पर आयोजित की जाएगी। साथ ही प्रश्र-पत्रों को भी नए पैटर्न के तहत तैयार किया जाएगा। बताया जाता है कि कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए बोर्ड ने बदलाव किया है।

जिला शिक्षा अधिकारी अरविंद चौरगड़े ने बताया कि एमपी बोर्ड परीक्षा की नवीन व्यवस्था के चलते प्रश्र-पत्रों में अब 30 फीसदी वस्तुनिष्ठ प्रश्र पूछे जाएंगे, 30 फीसदी सब्जेक्टिव और 40 प्रतिशत तार्किक प्रश्र होंगे। इतना ही नहीं छात्रों की सुविधाओं को ध्यान में रखते बोर्ड में हर विषय के सभी पाठ्यक्रम को तीन यूनिट में बांट दिया है, जिससे सभी यूनिट से प्रश्र पूछे जाएंगे। बताया जाता है कि प्रश्र-पत्रों में अब दीर्घ उत्तरीय प्रश्रों के बदले छोटे-छोटे सवाल पूछे जाएंगे, जिसका उत्तर पूरे चैप्टर को ठीक से समझकर पढऩे के बाद ही दिया जा सकेगा।


100 अंक को होगा हर विषय का पेपर -


बोर्ड परीक्षा में हर विषय का पेपर 100 अंक का होगा, जिसमें एक, तीन या चार अंक के ही प्रश्र पूछे जाएंगे। पहले की तरह पांच, छह या दस अंक के प्रश्र नहीं होंगे। बताया जाता है कि पूर्व में 25 फीसदी वस्तुनिष्ठ और 75 फीसदी लघु एवं दीर्घ उत्तरीय प्रश्र पूछे जाते थे। डीइओ चौरगड़े ने बताया कि प्रश्र-पत्रों का ब्लू-प्रिंट मंडल की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। विद्यार्थी इसके माध्यम से परीक्षा की तैयारी आसानी से कर सकते है।


बोर्ड ने बनाया है प्रश्र बैंक -


माशिमं ने परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए प्रश्र बैंक भी तैयार किया है, जो कि बोर्ड की वेबसाइट पर देखे जा सकते है। इसका अध्ययन कर विद्यार्थी परीक्षा की तैयारी आसानी से कर सकेंगे। वहीं हर विषय के सिलेबस को तीन यूनिट बांटकर बच्चों की समस्या कम कर दी है। इसके तहत तीस अंक के वस्तुनिष्ठ प्रश्र, तीन-तीन अंक के दस लघु उत्तरीय और चार-चार अंक के दस तार्किक प्रश्र पूछे जाएंगे।

COVID-19
Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned