Coopretive bank: एक-एक समिति की बुक बैलेंस की होगी जांच

समितियों में आर्थिक गड़बडिय़ां सामने आने पर लिया निर्णय

By: sandeep chawrey

Published: 01 Mar 2020, 11:39 AM IST

छिंदवाड़ा. जिला सहकारी बैंकों से जुड़ी जिले की हर समिति की आर्थिक गतिविधियों की पूरी जांच अब बैंक ने कराने का निर्णय लिया है। मोंरडोंगरी के ताजे मामले में किसानों और अमानतदारों द्वारा जमा किए गए लाखों रुपयों को जमा न करने की बात समाने आने के बाद प्रबंधन ने यह निर्णय लिया है। बैंक हर जिले की सभी 125 समितियों की बुक बैलेंस को जांच के लिए जिला मुख्यालय बुला रही है। इससे बचत बैंकों तथा किसानों तथा अन्य खातेदारों के साथ आर्थिक लेनदेन के बारे में जंाच की जा सकेगी और वास्तविक स्थिति सामने आ सकेगी। ध्यान रहे पांढुर्ना के मोरडोंगरी में सहकारी समिति के बचत बैंक में किसानों और अन्य अमानदारों द्वारा दिए रुपए उनके खातों में जमा ही नहीं हुए। जब इसकी शिकायत बैंक को की गई तो पता चला कि समिति के कर्ताधर्ता ने यह राशि जमा की ही नहीं और राशि का उपयोग कहीं और कर लिया। लाखों रुपयों की इस गड़बड़ी के सामने आते ही मचे हडक़ंप के बाद बैंक प्रबंधन ने यहां की जांच के लिए तीन सदस्यीय दल भी बना दिया। हालांकि दस दिन बाद भी इस संबंध में कोई जंाच रिपोर्ट नहीं आ सकी है। बैंक के महाप्रबंधक केके सोनी ने बताया कि पिछले तीन चार साल की जांच करना है इसमें समय लगेगा। वर्ष 2015-16 की जाच में तो काई गड़बड़ी नहीं मिली है। आगे की वर्ष के दस्तावेजों की जांच चल रही है।
सोनी ने बताया कि जिम्मेदार कर्मचारी भी प्रबंधन के सामने उपस्थित हो गया है और उनसे गलती स्वीकार करते हुए राशि जमा कराने के लिए हामी भी भर दी है। सोनी का कहना है कि जांच के बाद ही निर्णय लिया जाएगा कि क्या कार्यवाही की जाएगी। हमने तीन सदस्यीय जांच दल को जल्द जांच पूरी कर रिर्पोट देने कहा है।
अन्य जगहों पर भी हो सकती है गड़बडिय़ां
समितियों में आर्थिक अनियिमितताओं की शिकायतें सामने आने के बाद अब जिले में कई समितियों में ऐसे कारनामें होने को लेकर भी खुसपुस हो रही है। यही कारण है कि बैंक ने अब सभी समितियों के बुक बैलेंस शीट को जांच करने का निर्णय लिया है। ध्यान रहे जिले में सहकारी बैंक 125 समितियों और 45 से ज्यादा शाखाओं के माध्यम से पूरे जिले में अधिकांश किसानों के साथ आर्थिक लेनदेन करता है। ध्यान रहे नए प्रशासन बने विजय चौधरी ने इन मामलों को गंभीर मानते हुए प्रबंधन को कड़ी जांच करने के निर्देश दिए हैं।

sandeep chawrey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned