मोबाइल पर दोनों ही नहीं करेंगे ज्यादा बात

परिवार परामर्श केंद्र में शनिवार को पारिवारिक विवाद के मामलों पर सुनवाई हुई। शादी हुए पूरे एक साल भी नहीं हुए और बात तलाक तक पहुंच चुकी थी।

By: babanrao pathe

Published: 10 Mar 2019, 11:42 AM IST

 

छिंदवाड़ा. परिवार परामर्श केंद्र में शनिवार को पारिवारिक विवाद के मामलों पर सुनवाई हुई। शादी हुए पूरे एक साल भी नहीं हुए और बात तलाक तक पहुंच चुकी थी। पत्नी मायके से ससुराल जाने के लिए तैयार नहीं थी, क्योंकि उसे पति मारता पीटता है। सास और देवर बुरा बर्ताव करते हैं। विवाद और तलाक तक बात पहुंचने की एक मात्र वजह थी मोबाइल पर बात करना।


साल २०१८ में परिवार के सदस्यों की मर्जी से सामाजिक रीति रिवाज से विवाह हुआ। पति-पत्नी दोनों कुछ माह तो अच्छे से रहे, लेकिन बाद में विवाद शुरू हो गया। पति का आरोप था कि पत्नी पूरे दिन मोबाइल पर लगी रहती है। जाने किस किस से बात करती है। रात होती ही पति मोबाइल पर लग जाता था। पत्नी का आरोप था कि पति देर रात तक मोबाइल पर बात करता है। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ और पत्नी मायके चली गई। परिवार परामर्श केन्द्र में उसने आवेदन दिया जिस पर शनिवार को सुनवाई हुई। समझाइश के बाद दोनों ने मोबाइल के कम इस्तेमाल का वादा किया। एक अन्य मामले में पति की उम्र ६० साल हो चुकी है। पत्नी लगभग ५५ की है। पति पिछले कुछ दिनों से पत्नी के चरित्रत पर संदेह कर रहा है। इस मामले में भी समझौता कराया गया। पांच मामलों में समझौता, एक मामले को न्यायालय भेजा गया।

 

 

babanrao pathe Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned