अधिकारी नहीं आए तो बैठक का बहिष्कार

Rajendra Sharma

Publish: Jun, 14 2018 07:03:03 PM (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
अधिकारी नहीं आए तो बैठक का बहिष्कार

जिला पंचायत की संचार संकर्म समिति के सदस्य नाराज

गुरुचरन ने आरोप लगाया कि अधिकारियों का रवैया हमेशा उपेक्षापूर्ण रहा है

छिंदवाड़ा . जिला पंचायत की संचार सकर्म समिति की बैठक में अधिकांश विभागीय अधिकारियों के नहीं आने पर सभापति और सदस्य नाराज हो गए। उन्होंने बैठक शुरू होने के पहले ही बहिष्कार कर दिया। इस बैठक में निर्माण कार्य से सम्बंधित आरइएस, पीडब्ल्यूडी, जल संसाधन, पीआइयू, जनजातीय, सर्वशिक्षा अभियान, प्रधानमंत्री सडक़ और एमपीआरडीसी के अधिकारियों को उपस्थित होना था, लेकिन आरइएस के अधिकारी को छोडक़र कोई नहीं आया। कुछ विभाग के कर्मचारी जानकारी लेकर पहुंच गए। इससे सभापति मदन साहू, सदस्य गुरुचरन खरे समेत अन्य नाराज हो गए। गुरुचरन ने आरोप लगाया कि अधिकारियों का रवैया हमेशा उपेक्षापूर्ण रहा है। वे जिला पंचायत की गरिमा का ख्याल नहीं रख रहे हैं। इस व्यवहार के चलते ही बैठक का बहिष्कार कर दिया गया।

 

नौकरी का हक छीन रही सरकार

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा

छिंदवाड़ा . मप्र की शासकीय नौकरी में सभी वर्ग के युवाओं की आयु सीमा 44 वर्ष किए जाने का विरोध करते हुए आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा। पार्टी के लोकसभा प्रभारी अनिमेष पांडे, मुकेश जैन, चंद्रसिंह ठाकुर, शाहनवाज, रफी अंसारी समेत अन्य ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा सरकारी नौकरी में सभी वर्ग एवं अन्य प्रदेश से आए युवाओं के लिए आयु सीमा 44 वर्ष कर दी गई है। इससे प्रदेश के युवाओं का हक मारा जाएगा। इससे प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ेगी। लोक सेवा चयन आयोग के माध्यम से सहायक प्राध्यापक परीक्षा 18 जून निश्चित की गई है। यदि प्रदेश के बाहर से आए युवाओं के लिए उनके राज्य की तरह आयु सीमा लागू नहीं की जाती है तो प्रदेश के बेरोजगार युवाओं का भविष्य इस भर्ती प्रक्रिया पर पूर्ण रूप से निर्भर करेगा। पार्टी ने प्रदेश सरकार के कदम पर रोक लगाए जाने की मांग की।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned