ब्रह्मचारी दिव्यानंद छिंदवाड़ा में करेंगे वर्षावास

तारण तरण जैन समाज ने की अगवानी

By: Rajendra Sharma

Published: 20 Jul 2018, 09:08 AM IST

छिंदवाड़ा. ब्रह्मचारी दिव्यानंदजी का छिंदवाड़ा नगरागमन गत दिवस हुआ। सकल तारण तरण दिगंबर जैन समाज ने धर्मध्वजा, बाजे गाजे के साथ छोटा तालाब के सामने उनकी अगवानी की। यहां से एक शोभायात्रा के रूप में उन्हें नगर के मुख्य मार्गों से होते हुए तारण तरण चैत्यालय ले जाया गया। बड़ी संख्या में धर्मप्रेमी इस अवसर उपस्थित थे।
यहां पर धर्म सभा को सम्बोधित करते हुए ब्रह्मचारी दिव्यानंदजी ने कहां कि महान पुण्योदय से भगवान की वाणी सुनने का सौभाग्य हमें मिलता है। आप सभी की शुभभावना से यह वर्षावास ऐतिहासिक होगा। वर्षावास में आचार्य प्रवर श्रीमद जिन तारण स्वामी द्वारा रचित श्री ममल पाहुड जी ग्रंथ का अस्थाप होगा। ध्यान रहे दिव्यानंद जी के प्रथम वर्षावास का सौभाग्य छिंदवाड़ा समाज को प्राप्त हुआ है। वर्षावास कलश की स्थापना शीघ्र होगी। मंगल अगवानी में समाज के संरक्षक पंडित जयचंद जैन, संरक्षक शांताकुमार जैन, अध्यक्ष डॉ. यूके जैन, सचिव प्रदीप जैन, उपाध्यक्ष पंडित अक्षय नायक, मदन कुमार जैन, कोषाध्यक्ष सुभाष कुमार जैन सहित पदाधिकारी, नवयुवक मंडल मंडल, विद्यार्थी मंडल, संस्कृति मंडल के सदस्य और समाजबंधु उपस्थित थे।

नेमिनाथ मोक्ष कल्याण पर हुए धार्मिक आयोजन

आषाढ़ शुक्ल सप्तमी को सकल जैन समाज ने विविध अनुष्ठानों के साथ जैन दर्शन के 22वें तीर्थंकर 1008 श्री नेमिनाथ भगवान का मोक्ष कल्याणक महोत्सव भक्तिभाव पूर्वक मनाया।
सुबह धर्मावलंबियों ने वीतरागी देव, शास्त्र, गुरुओं के साथ नेमिनाथ भगवान की विशेष पूजा की गई। उनके बताए वीतराग मार्ग पर चलने का सभी ने संकल्प लिया। इस प्रसंग पर अहिंसा स्थली गोलगंज स्थित आदिनाथ जिनालय एवं पाश्र्वनाथ जिनालय बड़ा मंदिर में महासभा और परवार पंचायत, पाश्र्वनाथ जिनालय कांच मंदिर में गोल पूरब समाज, आदिनाथ जिनालय और पाश्र्वनाथ जिनालय नई आबादी में मुमुक्षु मंडल और जैन युवा फेडरेशन, चंदाप्रभु जिनालय एवं आदिनाथ जिनालय गुलाबरा में खंडेलवाल पंचायत ने पूजन किया।

आज से अष्टानिका महापर्व

शुक्रवार से महापर्व अष्टानिका शुरू हो रहा है, यह 27 जुलाई तक चलेगा। जैन युवा फेडरेशन के सचिव दीपकराज जैन ने बताा कि आठ दिवसीय महापर्व पर श्री आदिनाथ जिनालय गोल गंज में नंदीश्वर विधान का आयोजन किया जाएगा। सुबह सात बजे से पूजा-अर्चना होगी तो इसके बाद स्वाध्याय भवन में रात को पं अशोक वैभव, डॉ. विवेक जैन विशेष कक्षाएं लेंगे।

Rajendra Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned