सावधान! खेतों में छिप रहे हैं चोर

महिलाओं ने बताया कि रातों में खेतो का उपयोग चोर छुपने के लिए कर रहे है। खेतों से निकलकर चोर वारदातों को अंजाम देते है। पुलिस की पेट्रोलिंग भी कोई कारग

By: arun garhewal

Updated: 09 Dec 2017, 05:10 PM IST

पांढुर्ना. गुरुवार की रात संदिग्ध दिखाई दिए एक व्यक्ति को पकडऩे गए युवक पर रॉड से हमला कर दिया गया। इस घटना में युवक घायल हो गया है। शुक्रवार की सुबह घटना की जानकारी लगते ही पांढुर्ना पुलिस थाने में सांवरगांव के लोग पहुंच गए और चोरों को पकडऩे की मांग करते हुए अपना आक्रोश व्यक्त किया।
जानकारी के अनुसार गुरुवार रात को सावंरगांव के अंबा वार्ड निवासी दिनेश डहारे पेशाब करने के उठा था घर के बाहर उन्होंने खेत से किसी संदिग्ध व्यक्ति को देखा तो उसे पहचान पूछी जब उसने नहीं बताया तो उसने पीछे से पकड़कर चोर-चोर चिल्लाया जब तक लोग जागते संदिग्ध व्यक्ति ने रॉड निकालकर दिनेश के सर पर मार वार कर दिया जिससे दिनेश नीचे गिर गया। पुलिस ने दिनेश की शिकायत पर अज्ञात आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।
इस घटना की बारे में जानकारी मिलते ही सांवरगांव सहित वार्डवासियों ने पुलिस थाने का घेराव कर डाला। यहां पर पहुंची महिलाओं ने बताया कि रातों में खेतो का उपयोग चोर छुपने के लिए कर रहे है। खेतों से निकलकर चोर वारदातों को अंजाम देते है। पुलिस की पेट्रोलिंग भी कोई कारगर साबित नहीं हो रही है।
सांवरगांव के नागरिकों के साथ पहुंचे नपाध्यक्ष प्रवीण पालीवाल ने सख्त रवैए में कहा कि अब लोगों में आक्रोश है और जो भी इन घटनाओं में शामिल है वे भीड़ में भी खड़े हो तो अब वे बच नहीं पाएंगे।
वाड़ेगांव में महिलाओं को चाकू दिखाया: शुक्रवार दोपहर को खबर मिली कि ग्राम पंचायत वाड़ेगांव में शोभानंद निकाजु के खेत में कपास बिन रही एक महिला को खेत में पहुंचे दो संदिग्ध लोगों ने लूट की नियत से चाकू दिखाया। परंतु महिला के चिल्लाते ही खेत की अन्य महिलाएं भी दौड़ पड़ी। यह देख चोर खेत से भाग खड़े हुए। वाड़ेगांव के सरपंच अजय उइके ने बताया कि मारुड़ और वाड़ेगांव की ओर से लोगों ने भी चोरों का पीछा किया लेकिन वे खेत में भाग गए।
इधर घटना को लेकर नया फरमान
इधर चोरों के आतंक की वजह से ग्राम पंचायत में कलह शुरू हो गई है। ग्राम पंचायत भंदारगोंदी के सरपंच द्वारकाबाई आहके पर बिना पंचों से विचार विमर्श किए ही एक आदेश जारी किया है।
सरपंच ने गांव में मुनादी कर गांव वालों से कहा है कि कोई भी यदि चोर को पकडऩे के लिए किसी किसान के खेत में घुसकर फसल को नष्ट करता है तो उसके विरुद्ध ग्राम पंचायत सख्त कार्रवाई करेगी।
इस बात को लेकर गांव में तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो
गई है। ग्रामीणों का कहना है कि सरपंच ने आज तक गांव की सुरक्षा के लिए कोई कदम नहीं उठाया है परंतु आज जब चारों ओर असुरक्षा का माहौल है तब ऐसे फरमान जारी कर गांव वालों को परेशान किया जा रहा है।

arun garhewal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned