मंगलाचरण के साथ चातुर्मास की शुरुआत, अब बहेगी धर्म की बयार

मंगलाचरण के साथ चातुर्मास की शुरुआत, अब बहेगी धर्म की बयार

Rajendra Sharma | Publish: Jul, 20 2019 02:15:03 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

कलश स्थापना में देशभर से आए जैन धर्मावलंबी

छिंदवाड़ा. अगले चार महीने तक जैन धर्मावलंबियों के साथ शहरवासियों को जैन मुनियों का सानिध्य आशीर्वाद और प्रवचनों के लाभ का सुअवसर मिलेगा।
शुक्रवार को गोलगंज स्थित सभागृह में जिले और देशभर से आए जैन धर्मावलंबियों की उपस्थिति में मंगलाचरण के साथ चातुर्मास कलश की स्थापना की गई। दोपहर एक बजे कलश फेरी निकाली गई जो संत निवास से को-आपरेटिव बैंक के रास्ते कमानिया गेट होते हुए योगसागर सभागृह पहुंची। इसके बाद वीर विद्यासंघ दिव्य घोष की आगवानी में पंच ऋषिराजों का कार्यक्रम स्थल पर मंगल प्रवेश हुआ। समाज की महिलाओं ने मंगलगान से मुनियों का स्वागत किया। इसके बाद आचार्य श्री के चित्र का अनावरण किया गया और शास्त्र भेंट किए गए। मुनियों के सामूहिक पद पक्षालन के बाद सभी ने उनसे चातुर्मास के लिए सामूहिक निवेदन किया। इसके बाद कलश स्थापना की गई। ध्यान रहे वर्षावास में इस बार मुनि पूज्यसागर, मुनि अतुलसागर, मुनि निस्सीम सागर और मुनि शाश्वत सागर का सानिध्य इस बार सबको मिल रहा है।

जयपुर से चार्टर्ड प्लेन से आए धर्मावलंबी

कार्यक्रम में पूरे देश भर से जैन धर्मावलंबी आए। कर्नाटक, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान से विशेष रूप से इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए लोग यहां पहुंचे। किशनगढ़, राजस्थान से पाटनी परिवार के सात सदस्य अपने चार्टर्ड प्लेन से दोपहर को छिंदवाड़ा पहुंचे तो कर्नाटक के सदलगा से एक बस में जैन धर्मावलंबियों ने नगर में पहुंचकर इस कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned