इतवारी से केलोद के बीच जल्द दौड़ेगी ट्रेन

इतवारी से केलोद के बीच जल्द दौड़ेगी ट्रेन
Chhindwara-Nagpur Aman changed in second division

Prabha Shankar Giri | Updated: 19 Jan 2019, 08:00:00 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

इतवारी से केलोद के बीच जल्द दौड़ेगी ट्रेन

छिंदवाड़ा. दपूमरे नागपुर मंडल के अंतर्गत छिंदवाड़ा से नागपुर ब्रॉडगेज रेलमार्ग परियोजना में इतवारी से केलोद तक बनाए गए नए रेलमार्ग को कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी एके राय ने सर्टिफाइड कर दिया है। सीआरएस द्वारा इस रेलमार्ग पर 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन चलाने की अनुमति दे दी गई है। इस सम्बंध में शुक्रवार को सीआरएस ने विभिन्न बिंदुओं पर निर्देश देते हुए सर्टिफिकेशन लेटर जारी कर दिया। पांच पेज के भेजे गए लेटर में सीआरएस ने इतवारी से केलोद के बीच निरीक्षण के दौरान मिली खामियों को भी उजागर करते हुए इसे सुधारने के निर्देश दिए हैं। वहीं एक अंडरपास में खामी पाए जाने पर सुधार कार्य के बाद इंजीनियरिंग विभाग से सर्टिफाइड कराने को कहा है। इसके बाद ही ट्रेन चलाई जाएगी।
गौरतलब है कि 12 एवं 13 जनवरी को कलकत्ता से आए सीआरएस ने इतवारी से केलोद कुल 48 किमी नए रेलमार्ग का ट्रॉली से और फिर पांच बोगी की ट्रेन से 119 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से स्पीड ट्रायल किया था। इस दौरान सीआरएस ने सुरक्षा के लिहाज से हर बिंदु पर कार्यों की जांच की थी।
100 किमी स्पीड पर सीइ लेंगे निर्णय
इतवारी से केलोद तक नए रेलमार्ग का सीआरएस अप्रूवल होने के बाद अब जल्द ही इस पर ट्रेन भी चलाई जाएगी। सीआरएस ने भेजे गए अप्रूवल लेटर में कहा है कि एक माह ट्रेन चलने के बाद चीफ इंजीनियर 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन चलाने का निर्णय ले सकते हंै। इसमें यह जरूरी होगा कि ट्रैक में बिछी गिट्टी की मोटाई 350 एमएम हो।

अब आगे क्या
सीआरएस द्वारा इतवारी से केलोद रेलमार्ग सर्टिफाइड कर दिया गया है। अब गेज कन्वर्जन विभाग का अगला लक्ष्य केलोद से भिमालगोंदी तक बनाए गए रेलमार्ग के अधूरे कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करके सीआरएस द्वारा निरीक्षण कराना होगा। अधिकारियों की मानें तो फरवरी के अंतिम सप्ताह तक इस रेलमार्ग का सीआरएस हो जाएगा। इसके बाद भिमालगोंदी से भण्डारकुंड तक का कार्य पूरा किया जाएगा। यहां सीआरएस के निरीक्षण के बाद छिंदवाड़ा से नागपुर तक यात्रियों को ट्रेन की सुविधा मिलेगी। गौरतलब है कि छिंदवाड़ा से नागपुर तक बड़ी लाइन का कार्य चार खण्डों में पूरा किया जाना है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned