लबालब पानी से भरा बांध, फिर भी प्यासा मुख्यमंत्री का शहर

लबालब पानी से भरा बांध, फिर भी प्यासा मुख्यमंत्री का शहर
Chief Minister city thirsty

Prabha Shankar Giri | Publish: Jun, 02 2019 12:34:54 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

निगम के अधिकांश बोर सूखे, मोहल्लों में सुबह से देर तक दौड़ रहे टैंकर

छिंदवाड़ा. नौतपा की भीषण गर्मी के बीच माचागोरा बांध का पानी शहरवासियों को मिल रहा है, लेकिन कहीं-कहीं टंकियों के पर्याप्त नहीं भर पाने से कम प्रेशर से पेयजल मिलने की शिकायत आ रही है। नगर निगम के अधिकांश बोर सूखने की स्थिति में आ गए हैं। इसे देखते हुए नगर निगम को 50 टैंकरों को सुबह से शाम तक गली-मोहल्लों से लेकर गांवों तक दौड़ाना पड़ रहा है।
नगर निगम की जलप्रदाय विभाग की व्यवस्था के मुताबिक इस समय माचागोरा बांध के पाइंट जम्होड़ी पंडा के डगवैल से नौ सौ एचपी की मोटरें अजनिया सम्पवैल से भरतादेव फिल्टर प्लांट तक पानी पहुंचा रही है। उसके बाद पानी शहर की टंकियों के माध्यम से वार्डों में वितरित हो रहा है। गर्मी की वजह से इस समय पानी की मांग सबसे ज्यादा है इसलिए बांध का पानी पर्याप्त न मिलने की शिकायतें निगम के पास आ रहीं हैं। जबकि निगम का दावा है कि शहर में 25 एमएलडी पानी पहुंच आ रहा है। इधर, शहर समेत आसपास जहां बोर से पानी की आपूर्ति हो रही है, वहां भू-जल स्तर गिरने से स्थिति बिगड़ रही है। इसके चलते नगर निगम को अपने 50 टैंकरों की 250 ट्रिप प्रतिदिन गली-मोहल्लों में लगानी पड़ रही है। निगम के अधिकारी कह रहे हैं कि जहां से पेयजल शिकायतें आ रही हंै, वहां पानी टैंकर बढ़ा दिए गए हैं।

सभापति ने लिखा मुख्यमंत्री को पत्र
नगर निगम के जलप्रदाय विभाग के सभापति संतोष राय ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि शहर की टंकियां पूर्ण नहीं भर पाने के कारण नलों के माध्यम से होने वाली आपूर्ति बाधित हो रही है। अगर एक दिन के अंतराल से पानी की आपूर्ति करेंगे तो शहर के नलों के माध्यम से प्रेशर के साथ पर्याप्त पानी मिल सकता है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned