मुख्यमंत्री ने बताया प्रगति के मार्ग का रहस्य

मुख्यमंत्री ने बताया प्रगति के मार्ग का रहस्य
Chief Minister Kamal Nath in Chhindwara

Prabha Shankar Giri | Publish: Mar, 26 2019 11:13:07 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

गुरैया में अखंड नाम संकीर्तन में शामिल हुए मुख्यमंत्री: आराध्य देवों से मांगा आशीर्वाद

छिंदवाड़ा. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि भारत की विश्व गुरु के रूप में पहचान का मूल कारण हमारी सैन्य शक्ति नहीं बल्कि आध्यात्मिक शक्ति है। इसके भरोसे हम न जाने कितने अवसाद को झेलते हुए भी अपनी भक्ति भावना को सदैव जागृत रखते हैं।
हमारे धार्मिक आयोजन न केवल हमें सामाजिक रूप से एक बनाते हैं बल्कि हमें आत्मिक ऊर्जा भी प्रदान करते हैं जो हमारी प्रगति और उन्नति का मार्ग प्रशस्त करती है।
यह बात उन्होंने ग्राम गुरैया में आयोजित अखंड हरिनाम सप्ताह संकीर्तन के कार्यक्रम के समापन पर कही। इस अवसर पर उन्होंने पुत्र नकुलनाथ के साथ सप्ताह स्थल पर स्थापित आराध्य देवों की पूजा कर आशीर्वाद ग्रहण किया। गत 24 मार्च की सुबह से प्रारंभ इस अखंड हरिनाम सप्ताह में जिले के 56 भजन मंडलों ने अपनी प्रस्तुति देते हुए रतजगा किया। इस अवसर पर दीपक सक्सेना, विश्वनाथ ओक्टे, रामजी ओक्टे, रामनाथ ओक्टे, दीना ओक्टेे सहित हजारो की संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित हुए।

समिति साहिब ने पिता-पुत्र का किया अभिनंदन
मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं युवा नेता नकुल नाथ ने कबीरपंथ के सातवें वंश गुरु हुजुर सुरति स्नेही नाम साहिब की जीवित समाधि स्थल ग्राम सिंगोड़ी पहुंचकर साहिब के दरबार में माथा टेका और अमन-चैन की दुआ मांगी।
कबीरपंथ धर्म समिति साहिब सिंगोड़ी ने दोनों नेताओं का शॉल श्रीफ ल से सम्मान किया। विगत दो सौ वर्षों से कबीरपंथियों द्वारा होली के अवसर पर पांच दिवसीय आयोजन किया जाता है। इसमें जिले के विभिन्न ब्लॉक सहित मप्र, छत्तीसगढ़ व महाराष्ट्र सहित देश के अनेक प्रांतों से कबीरपंथी उपस्थित होते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned