कोरोना संक्रमण के साए में बच्चों ने दिए रिवीजन टेस्ट, जानें स्थिति

कोविड-19 परीक्षण के बाद मिली स्कूलों में प्रवेश की अनुमति

By: Dinesh Sahu

Published: 21 Nov 2020, 12:35 PM IST

छिंदवाड़ा/ जिले के समस्त शासकीय स्कूलों में कक्षा नवमीं से बारहवीं तक के विद्यार्थियों का वार्षिक परीक्षा से पहले रिवीजन टेस्ट शुक्रवार से शुरू हो गया है। पहले दिन कक्षा नवमीं एवं दसवीं के लिए गणित तथा कक्षा ग्यारहवीं एवं बारहवीं के लिए भूगोल, रसायन शास्त्र, लेखाकर्म आदि विषयों के पेपर हुए। बताया जाता है कि प्रश्र-पत्र कुछ बच्चों ने स्कूल में तो कुछ ने अपने घर पर हल किए है।

- पालकों की अनुमति पर स्कूल पहुंचे विद्यार्थी

वहीं स्कूल पहुंचने वाले समस्त बच्चों की कोविड-19 टेस्ट तथा मॉस्क पहने रहने के बाद ही प्रवेश दिया गया तथा सोशल डिस्टेंसिंग के साथ परीक्षा कराई गई। जिला शिक्षा अधिकारी अरविंद चौरगड़े ने बताया कि पालकों की लिखित सहमति पत्र के बाद ही बच्चों की परीक्षा स्कूल में ली गई तथा संक्रमण से सुरक्षा के उचित इंतजाम के निर्देश संस्था प्रमुखों को दिए गए है।


कई संस्थाओं में बरती गई लापरवाही -


रिवीजन टेस्ट देने के लिए एक ओर विद्यार्थियों में कई दिनों बाद स्कूल पहुंचने के लिए उत्साह देखा गया, वहीं कई संस्थाओं में सोशल डिस्टेंसिंग और मॉस्क नहीं पहने बच्चे नजर आए। इसके लिए पालक तथा स्कूल प्रबंधन दोनों ही गैर जिम्मेदार नजर आए। पेपर खत्म होने के बाद बच्चे झंूड बनाकर खड़े दिखे तो कई बिना मॉस्क पहने घूमते नजर आए।

COVID-19
Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned