बच्चों ने उकेरे एक से बढ़कर एक चित्र

जल संरक्षण के विषय पर आयोजित चित्रकला में नन्हे-मुन्ने बच्चों ने गंभीर चित्र उकेरे।

By: arun garhewal

Published: 24 May 2018, 05:39 PM IST

छिंदवाड़ा. जुन्नारदेव. नगर के शासकीय नंदलाल स्कूल उत्कृष्ट विद्यालय के मैदान पर बीते 21 दिनों से जारी ग्रीष्मकालीन वॉलीबाल प्रशिक्षण शिविर में सोमवार का प्रात: कालीन सत्र खासा महत्वपूर्ण साबित हुआ जल संरक्षण के विषय पर आयोजित चित्रकला में नन्हे-मुन्ने बच्चों ने गंभीर चित्र उकेरे।
गौरतलब है कि बीते लगातार 21 दिनों से नगर के एक पंडित नेहरु स्टेडियम के मैदान में लगभग 310 से भी ज्यादा बच्चे जहां एक और वॉलीबाल खेल के गुर सीख रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर विभिन्न विषयों पर आयोजित चित्रकला, भाषण, कहानी, योग , नृत्य एवं गायन की विधा में प्रावीण्यता हासिल कर व्यक्तित्व का निर्माण भी कर रहे हैं।
मध्य प्रदेश खेल एवं युवा कल्याण विभाग के मार्गदर्शन में आयोजित इस वॉलीबाल प्रशिक्षण शिविर में बच्चे दो सत्रों प्रात: कालीन एवं सायकालीन समय में खेल के गुर सीख रहे हैं। वॉलीबॉल खेल के ख्यातनाम प्रशिक्षकों के 9 मैदानों में 50 गेंदों से 12 प्रशिक्षक लगभग 310 से अधिक बच्चों को वॉलीबाल खेल की विधा सिखा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर बच्चों के व्यक्तित्व निर्माण और जीवन में अनुशासन के प्रति जागरूकता भी बढ़ाई जा रही है।
इस शिविर के आयोजक अनुराग एवं अनुरोध श्याम शर्मा ने बताया कि जहां एक और जीवन में खेल का अत्यधिक महत्व है तो वहीं दूसरी ओर बच्चों के भीतर विद्यमान अन्य गुणों को भी इस शिविर के माध्यम से उभारने की कोशिशें की जा रही है। यही वजह है कि चित्रकला, नृत्य, गायन, कहानी, योग, एवं भाषण जैसी विधा में बच्चों की अभिव्यक्ति सहित तक उनमें छिपी अन्य प्रतिभाओं को भी सामने लाया जा रहा है। खेल सहित इन समस्त गतिविधियों के प्रशिक्षण से बच्चों का स्वास्थ्य, शारीरिक, मानसिक एवं बौद्धिक स्तर का सर्वांगीण विकास होने में सफलता मिल रही है।
ख्यातनाम प्रशिक्षकों का सराहनीय प्रयास
नगर जुन्नारदेव की पहचान रहा वालीबाल खेल से जुड़े कई ख्यातनाम प्रशिक्षक इस ग्रीष्मकालीन वालीवाल प्रशिक्षण शिविर में अपनी सेवाएं दोनों सत्रों में लगातार देते नजर आ रहे हैं। मध्य प्रदेश खेल एवं युवा कल्याण विभाग के मार्गदर्शन में तथा वेकोलि कन्हान क्षेत्र और नगर पालिका परिषद, जुन्नारदेव के प्रबंधन तथा जनजाति कार्य विभाग, छिंदवाड़ा के सहयोग से इस शिविर का संचालन लगातार 29 वें वर्ष में किया जा रहा है।
इस ग्रीष्मकालीन वालीवाल प्रशिक्षण शिविर में लगभग 310 बच्चों को प्रशिक्षण दे रहे है। प्रशिक्षकों में सर्वश्री प्रकाश अजवानी, अनुराग शर्मा, अनुरोध शर्मा, धनंजय चौरसिया, महेंद्र डेहरिया, राजीव गौतम, डीआरएस चौहान, पावेल सिंह, राजेश सोनी, संजय , प्रशांत सोलंकी एवं सौरभ कहार अपनी सेवाएं लगातार अनवरत रूप से दे रहे हैं।

arun garhewal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned