परीक्षा से पहले होगा बच्चों का परीक्षण, जानें वजह

- 20 से 28 नवम्बर तक देना होगा टेस्ट, मुख्य परीक्षा के लिए की जा रही तैयारी

By: Dinesh Sahu

Updated: 15 Nov 2020, 01:40 PM IST

छिंदवाड़ा/ माध्यमिक शिक्षा मंडल की वार्षिक परीक्षा से पहले विद्यार्थियों का परीक्षण टेस्ट लिया जाएगा, जो कि 20 से 28 नवम्बर 2020 के बीच प्रक्रिया पूरी जाएगी। इसमें बच्चों को सम्बंधित स्कूल से प्रश्र-पत्र डाउनलोड कर दिया जाएगा, जिसे बच्चे स्कूल या घर ले जाकर हल कर सकते है तथा अगले दिन उत्तरपुस्तिका को कक्षा शिक्षक के पास जमा करना अनिवार्य होगा। इसकी जांच होने के बाद बच्चों का शैक्षिक स्तर ज्ञात हो जाएगा। साथ ही वार्षिक परीक्षा में बैठने से पहले कमियों में सुधार किया जा सकेगा।

जिला शिक्षा अधिकारी अरविंद चौरगड़े ने बताया कि उक्त तरह की प्रक्रिया माह जनवरी-फरवरी में भी दोहराई जाएगी, उन्होंने बताया कि माशिमं मार्च-अप्रैल में परीक्षा आयोजित कर सकता है। इससे बच्चों को काफी मदद मिल सकती है। लोक शिक्षण आयुक्त द्वारा विगत दिवस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उक्त निर्देश दिए गए है।

बता दें कि माध्यमिक शिक्षा मंडल ने वार्षिक परीक्षा प्रक्रिया में कुछ बदलाव किए है, जिसमें प्रश्र-पत्रों की प्रिंटेड प्रतियां नहीं भेजी जाएगी तथा उसके स्थान पर स्कूल को ऑनलाइन प्रदान किए जाएंगे तथा परीक्षा केंद्रों का चयन भी नवीन स्तर से किया जाएगा।


चल रही मार्गदर्शी कक्षाएं -


वर्तमान में कोविड-19 की वजह से स्कूलों का नियमित संचालन बंद है, पर शासन के निर्देश पर कक्षा नवमीं से बारहवीं तक मार्गदर्शी कक्षाएं संचालित की जा रही है। इसमें शामिल होने के लिए पालकों की लिखित सहमति होना अनिवार्य रखी गई है।

डीइओ चौरगड़ें ने बताया कि बच्चों परीक्षण परीक्षा में शामिल होने तथा प्रश्र-पत्र प्राप्त करने के लिए स्कूल आना पड़ेगा, जबकि ऐसे स्कूल जहां दर्ज संख्या कम है और संसाधन पर्याप्त हो तो शिक्षक सोशल डिस्टेंसिंग समेत अन्य सुरक्षा मापदंडों का पालन कर परीक्षा स्कूल में आयोजित कर सकता है।

COVID-19
Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned