Online Education : पूरे देश के बच्चे, युवा और बुजुर्ग लेंगे धार्मिक शिक्षा

ऑनलाइन व्यवस्था : जैन समाज के दो संस्कार शिविर शुरू

By: Rajendra Sharma

Updated: 10 May 2020, 05:36 PM IST

छिंदवाड़ा/ अखिल भारतीय तारणतरण युवा सभा 10 से 17 मई तक राष्ट्रीयस्तर पर विशेष शिविर का आयोजन कर रही है। ऑनलाइन चलने वाले इस संस्कार शिविर में बच्चे, युवा और बुजुर्ग जैन धर्म की शिक्षा लेंगे। इसका उद्देश्य बच्चों सहित युवा पीढ़ी में शाकाहार, सदाचार और नैतिक शिक्षा के साथ जैन दर्शन के मुख्य सिद्धांतों का बीजारोपण करना है। पूरे देश में सौ स्थानों पर एक साथ सौ से ज्यादा विद्यार्थी इससे जुड़ सकेंगे। छिंदवाड़ा से भी इस शिविर में धर्मावलंबी भाग ले रहे हैं।
तारण तरण समाज के तरुण जैन ने बताया कि सुबह 7.30 बजे से 10.30 बजे तक और शाम को सात बजे से 10 बजे तक ऑनलाइन कक्षाएं चलेंगी। दोपहर को तीन से शाम चार बजे तक प्रौढ़ कक्षा लगेंगी।

टोडरमल संस्थान विश्वभर में कर रहा आयोजन

बच्चों में संस्कार के बीच रोपित करने के लिए जयपुर के पं. टोडरमल स्मारक की तरफ से एक सप्ताह के इ-संस्कार शिविर का शुभारंभ रविवार को किया गया है। यह शिविर 17 मई तक चलेगा। विश्वस्तर पर आयोजित इस शिविर में पूरे विश्व से लगभग 13 हजार विद्यार्थी एक साथ एक ही समय पर सम्मिलित हो रहे हैं। इसमें जैन धर्म के विद्वान और समाजसेवी बच्चों को जैन दर्शन का अध्ययन कराएंगे। इस कार्यक्रम में जैन युवा फेडरेशन भी सहयोग कर रहा है। फेडरेशन से जुड़े दीपकराज जैन ने बताया कि पं टोडरमल की 300वीं जयंती की उपलक्ष्य में जयपुर स्थित ट्रस्ट की ओर से यह विशेष शिविर का आयोजन किया जा रहा है। शिविर में तीन सौ से अधिक विद्वान अध्यापन कराएंगे। रविवार को सुबह नौ बजे शिविर का शुभारम्भ हुआ। कक्षाएं प्रतिदिन सुबह, दोपहर और शाम को लगेंगी। सुबह आठ से 10.40 बजे तक, दोपहर को तीन से 4.40 बजे और शाम सात से रात 10 बजे तक।

Show More
Rajendra Sharma Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned