Coal India: देश की 41 खदानें होंगी नीलाम, प्रदेश की इन खदानों पर है नजर

Coal India: बंद ठिसगोरा खदान को निजी क्षेत्र में देगी सरकार,कोयले को खुले बाजार में बेचने की भी तैयारी

By: prabha shankar

Published: 01 Aug 2020, 05:10 PM IST

छिंदवाड़ा/ वेकोलि की पेंच एरिया की बंद ठिसगोरा-बी/रुद्रपुरी खदान को निजी क्षेत्र में देने की तैयारी केंद्र सरकार ने कर ली है। कोयला मंत्रालय की वेबसाइट में देशभर की कोयला खदानों की सूची में इस खदान को भी नीलामी की सूचना में शामिल किया गया है। राज्य सरकार ने खनिज विभाग को इसकी सभी प्रक्रियाओं को पूरा करने के लिए कहा है।
परासिया से 30 किमी दूर इस खदान को पांच साल पहले वेकोलि बंद कर चुकी है। इस खदान में दोबारा कोयला उत्पादन शुरू करने के लिए सरकार इच्छुक है और कोल इंडिया की जगह निजी क्षेत्र को देना चाहती है। इसके लिए हाल ही में घोषित कर्मशियल माइनिंग की नीति के तहत इसे लाया गया है। इस कोयला खदान में 45 मिलियन टन कोयला होने की सम्भावना सरकार ने जताई है।
फिलहाल नीलामी सूचना के बाद कौन सी कम्पनी इसे लेती है, यह आगामी 18 अगस्त के बाद पता चलेगा।

नीति: कोई भी बोली लगाए और मार्केट खुला
कोयला क्षेत्र में सुधार की नीति के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा अब कमर्शियल माइनिंग का प्रावधान किया गया है। इससे अब कोई भी पार्टी कोल ब्लॉक के लिए बोली लगा सकेगी तथा कोयला खुले मार्केट में विक्रय किया जा सकेगा। प्रतियोगिता बढऩे से बंद पड़ीं खदानें चालू होंगी, नई खदानें शुरू होंगी तथा कोयले के दाम कम होने से पावर, एल्युमिनियम एवं स्टील सेक्टर को लाभ मिलेगा।

प्रदेश की ये 11 खदानें होंगी नीलाम
केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में जारी की गई कोल खदानों की नीलामी सूचना में देश की 41 कोयला खदानों को शामिल किया गया है। इसमें मप्र की 11 कोयला खदानें सम्मिलित की गई हैं। इसकी ड्यू डेट 18 अगस्त रखी गई है। 11 खदानों मेेंं गोटीटोरिया ईस्ट, गोटीटोरिया वेस्ट, मरकी बरका, साहापुर ईस्ट, साहापुर वेस्ट, ठिसगोरा-बी/रुद्रपुरी, उरतन नार्थ, बंधा, धीराओली, मारवाटोला सेक्टर छह व आठ और उरतन शामिल हैं।

ब्रह्मपुरी कोल
ब्लॉक के लिए प्रशासन ने लिखा पत्र
कोयलांचल के ब्रह्मपुरी कोल ब्लॉक को बिरला कार्पोरेशन को दिया गया है। कार्पोरेशन की ओर से रिलायंस का आवेदन आने के बाद प्रशासन ने वन, राजस्व और खनिज निरीक्षक को पत्र लिखकर इस खदान की एनओसी समेत अन्य दस्तावेजों के बारे में जानकारी मांगी है। खनिज अधिकारी मनीष पालेवार ने बताया कि ब्रह्मपुरी कोल ब्लॉक के आवेदन पर कार्यवाही शुरू कर दी गई है।

Show More
prabha shankar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned