11वीं विज्ञान संकाय में प्रवेश को लेकर विवाद

केंद्रीय विद्यालय बड़कुही में दसवीं पास कई विद्यार्थियों को कक्षा ग्यारहवीं में प्रवेश नहीं देने एवं संस्था के द्वारा विज्ञान की अतिरिक्त क्लास शुरू नहीं करने के विरोध में 25 जुलाई को सुबह 11 बजे बड़कुही कांग्रेस द्वारा स्कूल के सामने आंदोलन व भूख हड़ताल करेगी।

By: Prem Dehariya

Published: 20 Jul 2018, 05:16 PM IST

परासिया. केंद्रीय विद्यालय बड़कुही में दसवीं पास कई विद्यार्थियों को कक्षा ग्यारहवीं में प्रवेश नहीं देने एवं संस्था के द्वारा विज्ञान की अतिरिक्त क्लास शुरू नहीं करने के विरोध में 25 जुलाई को सुबह 11 बजे बड़कुही कांग्रेस द्वारा स्कूल के सामने आंदोलन व भूख हड़ताल करेगी। मामले को लेकर गुरुवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने परासिया एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है। नगर कांग्रेस अध्यक्ष निसार अहमद ने बताया कि पूर्व में प्राचार्य से चर्चा के बाद सात दिनों के भीतर प्राचार्य ने विज्ञान की क्लास शुरु करने एवं विद्यार्थियों को प्रवेश देने के बारे में कहा था, लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पांच दिन के अंदर क्लास शुरू नहीं करने पर आंदोलन करने का निर्णय लिया है। इस अवसर पर कांग्रेस प्रवक्ता वीर बहादुर सिंह, कौशल कैथवास, संजय राय, विजेंद्र सिंह, अमूलराव, मुकेश जौहर उपस्थित थे।
वहीं केंद्रीय विद्यालय बड़कुही में विज्ञान संकाय की कक्षा ग्यारहवीं में प्रवेश पाने के लिए पालक अभी भी स्कूल का चक्कर काट रहे हैं। जिसको लेकर अभिभावकों ने गुरुवार को केंद्रीय विद्यालय के डिप्टी कमिश्नर एसआरओ जबलपुर, एसडीएम परासिया, प्रबंधक वेकोलि एवं प्राचार्य को पत्र दिया है। पालकों का कहना है कि स्कूल द्वारा बच्चों का पंजीयन कर 49 बच्चों की प्रतीक्षा सूची निकाली गई थी एवं प्राचार्य द्वारा कहा गया था कि 5 दिनों में स्कूल में दाखिला की कार्रवाई चालू की जाएगी, लेकिन 45 दिन बीत जाने के बाद भी बच्चों को अभी तक दाखिला नहीं मिला है। जिसको लेकर पालक और विद्यार्थियों में रोष व्याप्त है। वही पालकों ने 23 जुलाई को स्कूल के सामने धरना देने को लेकर ज्ञापन सौंपा है।
इधर परासिया के शासकीय स्कूल सोनापिपरी के राज्यपाल पुरस्कार प्राप्त शिक्षक रामविलास रघुवंशी एवं सोनापिपरी स्कूल की प्रधान अध्यापक के साथ दुव्र्यवहार करने पर छिंदवाड़ा जिले के प्रभारी अधिकारी राजेश तिवारी को छिंदवाड़ा से हटा दिया गया है। उनके स्थान पर मुख्यालय के उपसंचालक को छिंदवाडा जिले का प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है। जानकारी के अनुसार पिछले दिनों परासिया विकासखंड के मॉडल स्कूल खिरसाडोह में सभी माध्यमिक शालाओं के प्रधानाध्यापकों की बैठक हुई थी। जिसमें सोनापिपरी की प्रधानाध्यापक को प्रभारी अधिकारी के द्वारा बेवजह अपमानित किया गया था। साथ ही मीडिल स्कूल सोनापिपरी के शिक्षक शिक्षक रामविलास रघुवंशी अनुपस्थिति को लेकर प्रभारी अधिकारी ने अपशब्दों का प्रयोग किया गया था।
वहीं चांदामेटा के फ्लावरपवैल स्कूल में विवाद की स्थिति बन रही है। पालकों ने आरोप लगाया कि उपप्राचार्य फीस को लेकर पालकों एवं विद्यार्थियों को प्रताडि़त कर रही है। जिसके कारण पालकों से आए दिन विवाद हो रहा है। गुरुवार को स्कूल संघर्ष समिति के अध्यक्ष भगवान दास विश्वकर्मा एवं चांदामेटा नगर परिषद के उपाध्यक्ष अमजद खान सहित पालकों ने कलेक्टर, एसडीओपी एवं स्कूल के प्राचार्य को ज्ञापन देकर तत्काल उपप्राचार्य दुर्गा बुनकर को हटवाने की मांग की है। पालकों का आरोप है कि स्कूल के प्रबंधन द्वारा विद्यार्थियों की फीस काफी अधिक बढ़ा दी गई है। ज्यादा फीस को लेकर पालक विरोध कर रहे हैं और पालकों से विवाद होने पर उपप्राचार्य के द्वारा आए दिन पुलिस में पालकों की शिकायत की जा रही है। इस बारे में स्कूल प्रबंधन का कहना है कि बहुत से पालक विद्यार्थियों की लंबे समय से फीस जमा नहीं कर रहे हैं। पालकों को फीस जमा करने के लिए कहा जा रहा है, लेकिन फीस जमा नहीं कर रहे हैं। इसी मामले को लेकर कुद शक्ति बरती गई है, लेकिन पालक पुलिस एवं प्रशासन में शिकायत कर रहे हैं।

Prem Dehariya
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned