Corn Festival: मक्का पर देश का अकेला आयोजन, जानिए क्या-क्या होगा खास

Corn Festival: 15 और 16 दिसम्बर तक शहर के पुलिस लाइन मैदान पर होगा आयोजन

छिंदवाड़ा/ 15 और 16 दिसम्बर को होने वाले इस आयोजन को राज्य स्तर का स्वरूप देने की तैयारी है। आयोजन में प्रदेश के मुख्यमंत्री, सांसद सहित अन्य मंत्री विशेष जनप्रतिनिधि भी शिकरत करने वाले हैं। इसके अलावा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के कृषि वैज्ञानिक, मक्का के अनुसंधानकर्ता और इससे जुड़े बड़े कारोबारी भी यहां पहुंचने वाले हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दूसरे वर्ष इस आयोजन को वृहद स्तर पर आयोजित करने के निर्देश दिए थे। बता दें मक्का का उत्पादन देश के कई राज्यों में किया जाता है। छिंदवाड़ा में इसके अनुकूल मौसम को देखते हुए उत्पादन तो पहले भी होता रहा है, लेकिन पिछले कुछ सालों में गुणवत्तायुक्त मक्का की पैदावार यहां की जा रही है। राज्य में ही नहीं देश के चुनिंदा सबसे ज्यादा मक्का उत्पादन क्षेत्रों में छिंदवाड़ा की गिनती हो रही है। इससे पहले देश में मक्का पर केंद्रित ऐसा आयोजन कहीं नहीं हुआ। यह लगातार दूसरा साल है। यही वजह है कि पूरे देश और दुनिया के मक्का अनुसंधानकर्ताओं की नजर इस आयोजन पर है। वैज्ञानिक और उद्योगपति छिंदवाड़ा जिले के किसानों और आमजन को मक्का उत्पादन बढ़ाने, कम खर्च में अच्छी गुणवत्ता वाली मक्का की उपज लेने के सम्बंध में चर्चाएं करेंगे। साथ ही बेबी मक्का, मीठी मक्का, लाई वाली मक्का, स्टॉर्च वाली मक्का, तेल वाली मक्का के साथ ही उच्च गुणवत्ता वाली प्रोटीन वाली मक्का की फसल पद्धति का प्रशिक्षण देंगे और सीधा संवाद करेंगे। मक्का पर आधारित बड़े, छोटे और घरेलू उद्योग संचालित करने वाले अनुभवी व्यक्ति अपने अनुभव भी यहां साझा करेंगे।


कॉर्न फेस्टिवल में सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध
कॉर्न फेस्टिवल को जीरो वेस्ट करने के लिए सिंगल यूज़ प्लास्टिक पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। कार्यक्रम के दौरान पानी के लिए कागज या स्टील के ग्लास का उपयोग किया जाएगा। खाद्य सामग्री के लिए रिसायकलेबल और बायोडिग्रेडेबल पैकिंग का इस्तेमाल होगा । 100 सामान्य साइज और 30 बड़े साइज के गीले सूखे कचरे के डस्ट बिन के पेयर रखकर कार्यक्रम के दौरान कचरे का पृथकीकरण करवाकर पूर्णत: नियमानुसार निपटान किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान उत्पन्न होने वाला सूखे कचरे का छंटनी कर प्रॉसेसिंग प्लांट भेजा जाएगा। साथ ही गीले कचरे का मशीन द्वारा खाद बनाई जाएगी जिसका उपयोग निगम क्षेत्र में स्थित गार्डन में किया जाएगा । सफ ाई कर्मियों को भी स्पष्ट निर्देश दिए कि धूल या कचरा दिखते ही तत्काल साफ करें। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में आने वाले तकरीबन 2 लाख से ज़्यादा शहर वासियों को होम कम्पोस्टिंग बिन के इस्तेमाल एवं विक्रय किया जाएगा।

Show More
prabha shankar Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned