1 किमी. दूरी पर भी नहीं पहुंची एंबुलेंस, बाइक पर कोरोना संक्रमित पत्नी को लेकर पहुंचा अस्पताल

मध्यप्रदेश में प्रशासन की लापरवाही की एक और तस्वीर, कोरोना संक्रमित पत्नी को बाइक पर बैठाकर अस्पताल पहुंचा पति, नहीं आई एंबुलेंस..

By: Shailendra Sharma

Published: 23 Aug 2020, 11:01 PM IST

छिंदवाड़ा. मध्यप्रदेश में कोरोना काल में लगातार प्रशासनिक लापरवाही के मामले सामने आ रहे हैं। इस बार मामला छिंदवाड़ा के अमरवाड़ा विकासखंड का है यहां एक पति अपनी कोरोना संक्रमित पत्नी को बाइक से लेकर अस्पताल पहुंचा और ये सब इसलिए हुआ क्योंकि एंबुलेंस नहीं आई। जब 108 एंबुलेंस को फोन किया तो सामने से जवाब मिला कि किसी तरह सिंगोड़ी अस्ताल पहुंच जाओ। मामला मीडिया में आने के बाद अब स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है।

कोरोना संक्रमित पत्नी को बाइक से पहुंचाया अस्पताल
मामला अमरवाड़ा विकासखंड के रजोला गांव का है जहां एक महिला की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसके पति ने एंबुलेंस 108 की मदद के लिए फोन लगाया लेकिन सामने से किसी अधिकारी ने उससे कहा कि किसी तरह से सिंगौड़ी अस्पताल पहुंच जाइये। एंबुलेंस के इंतजार में बैठे पति ने इस जवाब के बाद कोरोना संक्रमित पत्नी को बाइक पर बैठाया और अस्पताल लेकर पहु्ंचा लेकिन यहां भी काफी देर तक उसे इंतजार करना पड़ा और तब कहीं जाकर पत्नी को जिला अस्पताल में शिफ्ट किया गया।

देखें वीडियो-

प्रशासन की गंभीर लापरवाही
कोरोना संक्रमित पत्नी को बाइक से अस्पताल लेकर पहुंचने से भी हैरान कर देने वाली बात ये है कि जिस गांव की महिला मरीज रहने वाली है वो सिंगौड़ी अस्पताल से महज एक किलोमीटर की दूरी पर बताया जा रहा है। शासन के प्रोटोकॉल के मुताबिक कोरोना संक्रमित मरीजों को पीपीई किट पहनाकर, सेनेटाइज कर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ 108 एंबुलेंस से अस्पताल में शिफ्ट किया जाना चाहिए लेकिन इस मामले में प्रोटोकॉल के किसी भी नियम का पालन नहीं किया गया। वहीं अब जब मामला मीडिया के सामने आ चुका है तो जिम्मेदार अधिकारी बचने का प्रयास करते हुए नजर आ रहे हैं।

बीएमओ ने कहा- बाइक से आने के लिए हमने नहीं कहा
बीएमओ डॉ. अर्चना कैथवास से जब इस संबंध में बात की गई तो उन्होंने बताया कि संक्रमित महिला पिछले दिनों रक्षाबंधन पर मायके गांव बारहाहीरा गई थी। वह सम्भवत: वहीं से संक्रमित होकर आई है। कॉन्टेक्ट हिस्ट्री में शामिल परिवार के आठ लोगों को सिंगोड़ी तथा मायके के पांच लोगों को क्वॉरंटीन किया गया है। वहीं बाइक से अस्पताल पहुंचने के सवाल पर उन्होंने कहा कि बाइक से पहुंचने के लिए हमने नहीं कहा था।

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned