चार दिन से कोरोना मरीज खा रहे आलू की सब्जी, जानें वजह

- निर्धारित मीन्यू के तहत नहीं मिलने का आरोप

By: Dinesh Sahu

Published: 07 Sep 2020, 12:41 PM IST

छिंदवाड़ा/ छिंदवाड़ा इंस्टीट्युट ऑफ मेडिकल साइंसेस से सम्बद्ध जिला अस्पताल के कोरोना वार्ड में भर्ती मरीजों को निर्धारित मीन्यू के तहत भी भोजन नहीं दिया जा रहा है। इस संदर्भ में भी रविवार को आइसोलेशन वार्ड से वीडियो वायरल किया गया है, जिसके तहत विभागीय दावें खोखले साबित हो रहे है। मरीजों का आरोप है कि उन्हें लगातार चार दिन से आलू की सब्जी दी जा रही है तथा दूध और चाय भी उचित ढंग से नहीं दी जाती है।

इसके अलावा वार्ड में साफ-सफाई और चादरें भी नियमित रूप से नहीं बदली जा रही है, जिसकी वजह से उन्हें घर से चादर लानी पड़ रही है। उल्लेखनीय है कि जिला अस्पताल में मरीजों दिए जाने वाले भोजन में लापरवाही को लेकर कुछ दिन पहले भी वीडियो वायरल किया गया था, जिसमें पीडि़त ने आरोप लगाया था कि उन्हें दिए गए भोजन में इल्ली मिली थी। इसके बाद प्रशासन ने वीडियो की जांच कर आरोप को गलत बताया था।


यह है निर्धारित मीन्यू -


विभाग के मीडिया अधिकारी डॉ. प्रमोद वासनिक के अनुसार कोविड-19 के मरीजों को दिए जाने वाले भोजन के लिए मीन्य निर्धारित किया गया है। इसके तहत सुबह 7 से 7.30 बजे के बीच एक कप चाय, 20 ग्राम मंूगफली/भूना हुआ चना/4 बिस्कुट। नाश्ता सुबह 8 से 9 बजे के बीच एक कप दूध/अंडा, पोहा/उपमा/दलिया/पराठे, केला/फल।

इसी तरह दोपहर भोजन 12.30 से 1.30 बजे के बीच रोटी/चावल, तुअर दाल/छोले/राजमा/साबुत दाल, दही/रायता/पनीर तथा हरी सब्जी दी जाती है। वहीं रात्रि भोजन शाम 7 से 8 बजे के बीच रोटी/चावल, सब्जी, बिना छिलके वाली दाल, कस्टर्ड/खीर/सेवाइयां/पनीर शामिल है।


गलत आरोप लगाए जा रहे -


वार्डों में साफ-सफाई बेहतर स्थिति में है तथा वीडियो में दिखाए जा रहे भोजन में स्पष्ट नजर आ रहा है कि भोजन में अंडा समेत सीलवर पैकिंग में दाल, चावल और रोटी दी जा रही है। इसलिए वीडियो में लगाए गए आरोप गलत है।


- अतुल सिंह, एसडीएम छिंदवाड़ा

COVID-19
Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned