scriptCourt of justice: Court sentenced to remain in jail till death | Court of justice: न्यायालय ने दी मरते दम तक जेल में रहने की सजा, यह है बड़ी वजह | Patrika News

Court of justice: न्यायालय ने दी मरते दम तक जेल में रहने की सजा, यह है बड़ी वजह

पीडि़ता जोर-जोर से रोने लगी।

छिंदवाड़ा

Published: February 23, 2022 05:56:30 pm


छिंदवाड़ा. दमुआ थाना क्षेत्र में पांच वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के मामले में विशेष न्यायाधीश(पॉक्सो एक्ट) संध्या मनोज श्रीवास्तव ने दोषी को मरते दम तक जेल में रहने की सजा सुनाई। घटना 23 अक्टूबर 2020 की है। पांच वर्षीय बच्ची की मां पड़ोस में सिलाई सीखने गई थी। शाम को घर आई तो देखा की बच्ची अपनी दादी की गोद में रो रही थी। मां के पूछने पर पीडि़ता ने बताया कि पड़ोस के आंगन में खेल वह खेल रही थी। इसी दौरान आरोपी राज उसका हाथ पकडकऱ अपने घर के पीछे लेकर गया और उसके साथ दुष्कर्म किया और गला दबाने का प्रयास करने लगा। पीडि़ता जोर-जोर से रोने लगी। उसकी आवाज सुनकर दादी दौड़ी हुई आई। इसी दौरान मौका पाकर आरोपी भाग निकला। पीडि़ता के परिजनों ने मामला दमुआ थाना में दर्ज कराया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु की। विवेचना उपरान्त अभियोग पत्र न्यायालय विशेष न्यायाधीश (पॉस्को एक्ट) छिंदवाड़ा के न्यायालय में प्रस्तुत किया। न्यायाधीश ने विचारण के दौरान आई अभियोजन पक्ष की साक्ष्य एवं बचाव पक्ष द्वारा प्रस्तुत तर्को पर विचार करने के पश्चात निर्णय पारित करते हुए आरोपी 32 वर्षीय राज उर्फ राजकुमार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। नाबालिग पीडि़ता के भविष्यवर्ती जीवन को विचार में रखते हुए पीडि़त प्रतिकर योजना के अंतर्गत राज्य सरकार से प्रतिकर दिलाए जाने के भी आदेश दिए। प्रकरण में शासन की ओर से दिनेश कुमार उइके विशेष लोक अभियोजक छिंदवाडा द्वारा पैरवी की गई।
crime news - एक सप्ताह बाद भी नहीं मिला नर्मदा में कूदा युवक
-तलाश के साथ पुलिस की जांच दूसरी दिशा में बढ़ी-शहर में चर्चा युवक ने फिल्मी कहानी रचकर किया गुमराह
पत्नी की हत्या पर आजीवन कारावास
छिंदवाड़ा. चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश, छिंदवाड़ा द्वारा कुंडीपूरा थाना क्षेत्र के वार्ड नंबर-20, पातालेश्वर काली चौक निवासी 35 वर्षीय रूपेन्द्र पिता अंबिका यादव को पत्नी गीता यादव के हत्या मामले में दोष सिद्ध होने पर आजीवन सश्रम कारावास एवं अर्थदंड से दंडित किया। मामला 3 अक्टूबर 2020 का है। इस दिन दोषी रूपेन्द्र ने पत्नी गीता को शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताडि़त कर कुल्हाड़ी से सिर पर वारकर व पेट्रोल डालकर आग लगा दी। इलाज के दौरान गीता की मौत हो गई थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.