Creepy: प्यार का खौफनाक अंत, नाबालिग की हत्या, देखें वीडियो

साइबर सेल की मदद से पुलिस आरोपियों तक पहुंची। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह नहीं आने के पीछे कई कारण बताए जा रहे हैं।

By: babanrao pathe

Published: 01 Feb 2020, 10:22 AM IST

Chhindwara, Madhya Pradesh, India

छिंदवाड़ा. त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग के चलते नाबालिग का अपहरण कर हत्या की गई थीं। लावाघोघरी थाना पुलिस ने दो आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। दोनों आरोपी नाबालिग को घर से उठाकर जंगल में लेकर गए और मुंह दबाकर उसकी हत्या कर दी। साइबर सेल की मदद से पुलिस आरोपियों तक पहुंची। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह नहीं आने के पीछे कई कारण बताए जा रहे हैं।

बता दें कि लावाघोघरी थाना क्षेत्र में रहने वाली एक नाबालिग 18 जनवरी की रात 9.30 बजे के बाद घर से लापता हुई थी। परिवार के सदस्यों ने इसकी कोई सूचना पुलिस थाना में नहीं दी। 26 जनवरी को गांव से करीब दो किमी दूर जंगल में शव मिलने की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। गांव के लोगों से सम्पर्क किया तब उसकी शिनाख्त हुई। शव का पीएम पांढुर्ना अस्पताल में कराया गया, लेकिन उसमें मौत की कोई वजह सामने नहीं आई। मृतिका का मोबाइल उसके घर में ही था, जिसे पुलिस ने जब्त कर साइबर सेल को सौंपा। मोबाइल के जरिए वह किन लोगों से जुड़ी हुई थी उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो दो युवकों ने हत्या करना कबूल किया।

घर से उठाकर ले गए थे

नाबालिग के माता-पिता 18 जनवरी को खाना खाने के बाद लगभग 9.30 बजे खाना खाने के बाद खेत में सिंचाई करने के लिए चले गए थे। नाबालिग घर में अकेली थीं इस दौरान उसे विजय और महेन्द्र उठाकर जंगल में लेकर गए और यहां हत्या कर दी। शव को छोडकऱ आरोपी वहां से फरार हो गए। पुलिस ने दोनों के खिलाफ हत्या सहित अन्य धारा में अपराध दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। कत्ल के पीछे त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग बताया जा रहा है।

आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हत्या के आरोपी विजय और महेन्द्र को गिरफ्तार कर लिया गया है। प्राथमिक तौर पर प्रेम प्रसंग के चलते हत्या करना सामने आया है, अभी जांच और पूछताछ की जा रही है।

-शशांक गर्ग, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, छिंदवाड़ा

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned