श्मशान की भूमि खोदकर बना रहे ईंट

खदानों से कोयला चोरी कर भट्टों में बेचा जाएगा।

छिंदवाड़ा. गुढ़ी अम्बाड़ा. कोयलांचल क्षेत्र में अवैध ईंट भट्टों का संचालन हो रहा है। अब फिर से शासकीय जमीन का दोहन होना शुरू हो गया है। इसके अलावा खदानों से कोयला चोरी कर भट्टों में बेचा जाएगा।
गौरतलब है कि ग्राम पंचायत नजरपुर क्षेत्र में दर्जनों की संख्या में भट संचालक अवैध रूप से ईंट बनाने का कार्य कर रहे हैं। इसके लिए उनके द्वारा राजस्व व वन विभाग की भूमि का दोहन किया जा रहा है। जिसके लिए शासकीय तालाब के पानी का भी उपयोग किया जा रहा है।
हद तो तब हो गई जब भट्टा संचालन करने वाले मोक्षधाम की भूमि को भी निशाना बना रहे है। मोक्षधाम व श्मशान की भूमि की खुदाई कर मिट्टी निकालने का काम शुरू कर दिया है। इसके अलावा हाईटेंशन लाइन के लिए लगे हुए खम्भे के आसपास की मिट्टी भी इन लोगों के द्वारा खोदकर निकाली जा रही है जिससे हाईटेंशन लाइन के बिजली के पोल कमजोर हो चुके हैं एवं कभी भी गिर सकते हैं। इसके अलावा हरे भरे पेड़ों को भी निशाना बनाया जा रहा है।
नजरपुर क्षेत्र में धड़ल्ले से संचालित अवैध ईट निर्माण को लेकर ग्रामीणों के द्वारा जन समस्या निवारण शिविर के दौरान तहसीलदार से शिकायत की गई थी एवं तहसीलदार भट्टा का संचालन शुरू होने पर कार्यवाही का आश्वासन भी दिया था। लेकिन आज तक तहसीलदार के द्वारा कोई कार्रवाई की गई न ही पुलिस इस मामले को लेकर गंभीर नजर आ रही है। मोक्षधाम और श्मशान भूमि को छलनी कर मिट़्टी निकाली जा रही है जिससे कहीं ना कहीं लोगों की भावनाएं आहत हो रही है।

arun garhewal
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned