scriptCrime: Three years imprisonment for poachers | Crime: शिकारियों को तीन-तीन वर्ष का सश्रम कारावास, यह था पूरा मामला | Patrika News

Crime: शिकारियों को तीन-तीन वर्ष का सश्रम कारावास, यह था पूरा मामला

10-10 हजार रुपए अर्थदंड की सजा

छिंदवाड़ा

Published: December 22, 2021 12:32:24 pm


छिंदवाड़ा. काले व लाल हिरण के शिकारियों को न्यायालय ने तीन-तीन वर्ष का सश्रम कारावास एवं 10-10 हजार के अर्थदंड से दंडित किया। न्यायालय पुष्पा तिलगाम न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी चौरई के द्वारा आरोपी नितिन सिंह राजपूत ऊर्फ लंगडा पिता स्व. कामेश्वर सिंह राजपूत उम्र 41 वर्ष नि. छिंदवाडा, आरोपी ब्रजेश सलिल साहू पिता जीएन साहू उम्र 51 वर्ष नि. छिंदवाडा दोनों को वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम में तीन-तीन वर्ष का सश्रम कारावास व 10-10 हजार रुपए अर्थदंड एवं धारा 27 आम्र्स अधिनियम में तीन-तीन वर्ष का सश्रम कारावास एवं 10-10 हजार रुपए अर्थदंड की सजा एवं अनिल पिता जेम्स हर्बट मार्टिन उम्र 63 वर्ष नि. कोलाढाना हाल निवासी भोपाल गोविंदपुरा थाना गोविंदपुरा को धारा 5 सहपठित धारा 29 आम्र्स अधिनियम में तीन वर्ष का सश्रम कारावास एवं 10 हजार रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई गई। मामले में मध्यप्रदेश शासन की ओर से सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी प्रवीण कुमार मर्सकोले के द्वारा सशक्त पैरवी की गई थी। घटना दिनांक 14 दिसंबर 2016 की है। राष्ट्रपति के आगमन पर सिवनी बायपास हसनपूर रोड के सामने चौरई में थाना चौरई के स्टॉफ , एसडीओपी श्रद्धा सोनकर, थाना प्रभारी के साथ वाहन चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान डुंगरिया की तरफ से आ रही हरे रंग की जिप्सी को चेकिंग के लिए। पूछताक्ष करने पर वाहन में बैठे व्यक्ति ने अपना नाम ब्रजेश साहू बताया तथा उसके बाएं तरफ बैठे व्यक्ति से पूछताक्ष पर चालक ने अपना नाम नितिन सिंह राजपूत ऊर्फ लंगडा बताया। जिप्सी की तलाशी ली गई। नितिन सिंह राजपूत के दाहिने तरफ कपड़े से ढकी हुई रायफल दूरबीन लगी हुई रखी मिली। पूछताक्ष के दौरान रायफल का कोई लाइसेंस नहीं बताया गया। जिप्सी में एसात जिन्दा कारतूस तथा 11 चले हुए कारतूस के खोके भी मिले। चालक के पीछे कपड़े से ढका हुआ एक काले रंग का हिरण व एक लाल रंग का हिरण मिले, जिनके शरीर से खून बह रहा था। शरीर में गोली लगी थी। दोनों हिरण मृत अवस्था में थे, काले व लाल हिरण के चारों पैर बंधे हुए थे। कार में पाए गए सभी सामान की जप्ती की कार्यवाही पुलिस द्वारा मौके पर की गई थी। राइफल के लाइसेंसी आरोपी अनिल मार्टिन का भी अपराध पाए जाने पर गिरफ्तार किया गया। अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया एवं विवेचना उपरांत आरोपी नितिन, ब्रजेश और अनिल मार्टिन के विरूद्ध धारा 2, 9, 39, 50, 51 वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम एवं धारा 25, 27, 29 आम्र्स अधिनियम के तहत अभियोग पत्र न्यायालय में पेश किया गया था।
crime_1.jpg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावPunjab Assembly Election: कांग्रेस ने जारी की 86 उम्मीदवारों की पहली सूची, चमकोर से चन्नी, अमृतसर पूर्व से सिद्धू मैदान मेंCorona Cases In India: देश में 24 घंटे में कोरोना के 2.68 लाख से ज्यादा केस आए सामने, जानिए क्या है मौत का आंकड़ाअब हर साल 16 जनवरी को मनाया जाएगा National Start-up Dayसीमित दायरे से निकल बड़ा अंतरिक्ष उद्यम बनने की होगी कोशिश: सोमनाथरेलवे का कंफर्म टिकट खोने पर घबरायें नहीं, इन नियमों का करें पालनTesla In India: हमारे यहां लगाएं अपनी इलेक्ट्रिक कार का प्लांट, इस राज्य ने Elon Musk को दिया खुला न्योतासपा को बड़ा झटका, कैराना से प्रत्याशी नाहिद हसन गिरफ्तार, कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.