पेंशन पर संकट, नहीं दी जाती रिसीविंग

पेंशन पर संकट, नहीं दी जाती रिसीविंग
Crisis on pension

Prabha Shankar Giri | Updated: 16 Jan 2019, 09:00:00 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

लापरवाही: पेंशन प्रकरण अनुमोदन में देरी

छिंदवाड़ा. जिले के विभिन्न विभागों में कार्यरत कर्मचारियों की पेंशन डाटा अनुमोदन का कार्य धीमी गति से चल रहा है। इससे सम्बंधित विभागों में अन्य कार्य प्रभावित हो रहे हंै। इतना ही नहीं सर्विस बुक जमा करने पर पेंशन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी कोई रिसीविंग नहीं देते हैं, इससे सर्विस बुक की सुरक्षा को लेकर संशय बना रहता है।
कर्मचारियों ने बताया कि पेंशन शाखा में सर्विस बुक जमा करने जाओ तो वह नहीं लेते हैं और ले भी लिए तो समय पर कार्य पूरा करने की प्रतिबद्धता होने से रिसीविंग नहीं देते हैं। जबकि सम्भागीय कार्यालय जबलपुर में रिसीविंग दी जाती है। हालांकि विभागीय अधिकारियों का दावा है कि उनके पास से अब तक कोई भी सर्विस बुक या दस्तावेज गुम नहीं हुए हैं। इधर जिला पेंशन शाखा में स्वीकृत पद छह हैं, लेकिन वर्तमान में कार्यरत कर्मचारी सिर्फ तीन हैं। इस वजह से भी दिक्कत होती है। उल्लेखनीय है कि शासन ने सर्विस बुक के अनुमोदन की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर 2018 से बढ़ाकर 31 मार्च 2019 कर दी है।
नहीं है रिसीविंग देने की व्यवस्था
सर्विस बुक के अनुमोदन कार्य में छिंदवाड़ा अव्वल है। पर्याप्त स्टाफ न होने पर भी अच्छा करने का प्रयास किया जा रहा है। विभाग से कभी कोई दस्तावेज या सर्विसबुक गुम नहीं हुई, इसलिए रिसीविंग नहीं दी जाती है।
विजय आठनकर,
जिला पेंशन अधिकारी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned