दैनिक वेतन कर्मचारियों का वेतन रुका

दैनिक वेतन कर्मचारियों का वेतन रुका
Daily pay staff problem

Prabha Shankar Giri | Updated: 19 Mar 2019, 11:00:25 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

परेशानी: जनजातीय कार्य विभाग के बाबुओं से त्रस्त

छिंदवाड़ा. जनजातीय कार्य विभाग में कार्यरत भारिया जनजाति के दैनिक वेतन कर्मचारी एवं अंशकालीन मजदूर तथा स्थायी कर्मचारियों को विगत तीन से लेकर दस माह तक का वेतन नहीं मिल पाया है। इसके अभाव में ये कर्मचारी फीकी होली मनाएंगे।
इसको लेकर राज्य कर्मचारी संघ चतुर्थ श्रेणी प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष भुवनलाल मालवी, संघ के डॉ.मौर्य, प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव गोविंद प्रसाद शिव, सम्भागीय उपाध्यक्ष कैलाश यमदे ने सोमवार को ज्ञापन जिलाध्यक्ष एवं सहायक आयुक्त के माध्यम के माध्यम से मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम सौंपा। संगठन की मांग पर सहायक आयुक्त ने स्थापना प्रभारी एवं लेखा प्रभारी को फ टकार लगाई ।
मालवीय ने बताया कि 49 कर्मचारी वर्ष 2018 में स्थायी कर्मी किए गए थे और उनका चार माह बाद यूनिक आया। दस माह बाद भी विभाग के बाबुओं की लापरवाही के कारण एवं बजट उपलब्ध होने के बाद भी परासिया, पांढुर्ना, अमरवाड़ा, हर्रई बटका के कर्मचारियों को वेतन नहीं मिला है जबकि दो दिन बाद ही होली का त्योहार है।
इससे स्थायी कर्मी, दैनिक वेतन और मजदूरों में रोष है। ज्ञापन में अनारवती को दैनिक दर पर रखने, कुंवर शाह के पुत्र को अनुकम्पा नियुक्ति की जगह अंशकालीन के पद 3000 रुपए प्रतिमाह पर रखने, 2016 तक के 144 दैनिक वेतन भोगी को स्थायीकर्मी करने एवं 20 से 25 साल की दैनिक सेवा कर चुके स्थायी कर्मियों को पांच वर्ष की सेवा के बाद नियमित मानते हुए नियमित करने की मांग की।
इस अवसर पर रोहीदास यादव, राजकुमार मालवी, सुंदर भारती, सुखमान उइके, अनारवती कुमरे, श्रीराम सल्लाम ,सुमरू सहारे, शिवकुमारी उइके आदि कर्मचारी उपस्थित हुए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned