कोरोना संक्रमितों की मौत...अंतिम संस्कार पर बवाल, जानें वजह

- वार्डों में नियमित नहीं हो रहा डॉक्टरों का राउंड

By: Dinesh Sahu

Published: 20 Sep 2020, 03:24 PM IST

छिंदवाड़ा/ छिंदवाड़ा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस से संबद्ध जिला अस्पताल में शनिवार को कोरोना उपचार के दौरान दो मरीजों की मौत हो गई। मरने वालों में एक तारा कॉलोनी छिंदवाड़ा निवासी 51 वर्षीय तथा परासिया के गुढ़ी-अम्बाड़ा क्षेत्र निवासी 63 वर्षीय बुजुर्ग शामिल है। दोनों मृतकों के शवों का अंतिम संस्कार नगर निगम अमले ने कोविड-19 प्रोटोकाल के तहत परतला स्थित मोक्षधाम में किया। इधर जिले में अब तक कोरोना संक्रमण की वजह से 85 मरीजों की मौत हो चुकी है, जिनमें से प्रशासनिक रिकार्ड में 17 को ही शामिल किया गया है।


नियमित नहीं हो रहा डॉक्टरों का राउंड -


इधर अस्पताल के मेल मेडिकल वार्ड में पिछले दो दिन से डॉक्टरों ने राउंड नहीं लिया, जिसकी वजह से मरीज तथा परिजन में आक्रोश उपज गया था। लोगों की शिकायत और नर्सों द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों की दी गई सूचना के बाद तीसरे दिन शनिवार को डॉक्टर ने राउंड लिया।

जिला जेल में बांटा गया त्रिकटु चूर्ण


जिला आयुष अधिकारी डॉ. किशोर गाडबैल के निर्देशानुसार शनिवार को आयुष विंग पंचकर्म थैरेपी सेंटर जिला अस्पताल छिंदवाड़ा प्रभारी डॉ. प्रियंका धुर्वे द्वारा जिला जेल में त्रिकटु चूर्ण के पैकेट्स वितरित किए गए। जेल अधीक्षक यजुवेंद्र वाघमारे की उपस्थिति में जेल में परिरुद्ध 700 बंदी और 37 कोरोना पॉजिटिव बंदी समेत जेल स्टाफ की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए 50 त्रिकटु और 500 संशमनी वटी पैकेट्स बांटे गए।

COVID-19
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned