कोरोना टेस्टिंग लैब शुरू होने में हो रही देरी...कलेक्टर ने दी नसीहत...जानें वजह

- कलेक्टर सुमन ने औचक निरीक्षण कर दिए आवश्यक निर्देश

By: Dinesh Sahu

Updated: 05 May 2020, 11:47 AM IST

छिंदवाड़ा/ जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कोरोना मरीजों के लिए प्रवेश एवं निकासी के लिए पृथक से रास्ता बनाया जाएगा, जिससे सामान्य मरीजों में संक्रमण का भय नहीं रहेगा। सोमवार को नवागत कलेक्टर एसके सुमन ने औचक निरीक्षण किया तथा विभिन्न व्यवस्थाओं में सुधार करने के निर्देश दिए है।

कोरोना मरीजों के प्रवेश एवं निकासी के लिए अलग होगा रास्ता

साथ ही पीआइयू के कार्यपालन यंत्री को शीघ्र ही रास्ता तैयार करने के निर्देश दिए है। इस दौरान कलेक्टर सुमन ने आइसीसीयू, वार्ड तथा मरीजों की सुविधाओं में बेहतर कार्य करने की बात कही है। इस अवसर पर डीन डॉ. जीबी रामटेके, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रदीप मोजेस, सिविल सर्जन डॉ. पी. कौर गोगिया, आरएमओ डॉ. सुशील दुबे समेत अन्य मौजूद थे।


कोरोना टेस्टिंग लैब शुरू करने में क्या आ रही दिक्कतें -


जिला अस्पताल का भ्रमण करने के बाद कलेक्टर सुमन मेडिकल कॉलेज का जायजा लेने भी पहुंचे, जहां उन्होंने विभिन्न विभागों की समीक्षा की। साथ ही मेडिकल कॉलेज में कोरोना टेस्ंिटग लैब शुरू करने में हो रही देरी की वजह पूछी, जिस पर डीन डॉ. रामटेके ने कुछ मशीनों की उपलब्धता में देरी होना वजह बताई।

COVID-19
Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned