हाईवोल्टेज ड्रामा: सीएम के गृहनगर से वन मंत्री को परहेज, अधिकारी आश्चर्यचकित... जानें वजह

हाईवोल्टेज ड्रामा:  सीएम के गृहनगर से वन मंत्री को परहेज, अधिकारी आश्चर्यचकित...  जानें वजह
Did not reach the forest minister

Prabha Shankar Giri | Updated: 27 Jun 2019, 07:00:00 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

बायपास में अगवानी के लिए पहुंचते अधिकारी, उससे पहले ही बैतूल के लिए निकला काफिला

छिंदवाड़ा. प्रदेश सरकार का कोई भी मंत्री छिंदवाड़ा के आसपास से गुजरता है तो मुख्यमंत्री कमलनाथ का शहर होने के नाते कुछ समय रुकता है और अपने विभाग के अधिकारियों से मिलकर कामकाज की समीक्षा भी करता है। बुधवार को एक हाईवोल्टेज ड्रामा में वन मंत्री उमंग सिघार ने इस राजनीतिक परम्परा से परहेज किया। यही नहीं, विभागीय अधिकारी उनके स्वागत के लिए पहुंचते, उससे पहले ही मंत्री ने अपनी गाड़ी सीधे बैतूल के लिए रवाना कर दी। इससे अधिकारी भी आश्चर्यचकित हो ठगे से रह गए।
विभागीय जानकारी के मुताबिक पिछले एक सप्ताह से वनमंत्री के आगमन की तैयारियां चल रहीं थीं। मंत्री के आगमन पर कलेक्ट्रेट में वन विभाग की योजनाओं की समीक्षा को लेकर बैठक का आयोजन भी किया गया था। इसके लिए बीते मंगलवार की रात ही पीसीसीएफ जेके मोहंती तामिया रेस्ट हाउस पहुंच गए। सुबह से ही उन्होंने छिंदवाड़ा में वन अधिकारियों से बातचीत कर मंत्री के आगमन और बैठक की तैयारी भी करवा ली।
सुबह पहले मंत्री के दौरे के निरस्त की खबर उड़ी। फिर मंत्री के आने की सूचना आई। फिर यह मामला ठंडा पड़ गया। आखिर में यह खबर आई कि मंत्री दोपहर में सिवनी रोड से लगे बायपास से होते हुए बैतूल के लिए रवाना होंगे। इसको लेकर संवाद सदन में अधिकारी स्वागत की तैयारी में बैठे रहे। फिर बातचीत का मैनेजमेंट कुछ इस तरह बिगड़ा कि वन अधिकारियों का दल दोपहर 3.25 बजे बायपास रोड पर पहुंचा। इसके बाद उन्हें खबर लगी कि वन मंत्री तो 3.10 बजे ही बायपास रोड से गुजरकर सीधे बैतूल रवाना हो गए। उन्होंने पीसीसीएफ को भी सीधे बैतूल बुलवा लिया। इसके बाद स्थानीय अधिकारियों ने पीसीसीएफ की विदाई दी। उन्हें इस बात का अफसोस रहा कि सीएम के गृह नगर की सरहद को छूकर उनके विभाग का मंत्री चला गया। उनकी स्वागत की तैयारी धरी रह गईं। फिलहाल मंत्री के सीधे बैतूल रवाना होने को लेकर अलग-अलग चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned