शौचालय निर्माण की राशि में गड़बड़ी

शौचालय निर्माण की राशि में गड़बड़ी

Arun Garhewal | Publish: Jul, 20 2019 11:43:36 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

खाते से बारह हजार की राशि निकाली जा चुकी है।

छिंदवाड़ा. परासिया. आदिवासी बहुल ग्राम कोहका के 23 ग्रामीणों को वकील का नोटिस मिलने के बाद हडकंप मच गया और लगभग पचास ग्रामीण पूर्व जनपद सदस्य जगदीश इवनाती के नेतृत्व में शुक्रवार को जनपद पंचायत पहुंचे और अध्यक्ष रईस खान से समस्या बताई।
नोटिस में 23 हितग्राहियों को शासन द्वारा प्रदत्त राशि निकालने लेकिन मटेरियल सप्लायर को सीमेंट, ईंट, रेत सहित अन्य सामग्री का भुगतान नहीं करने पर कानूनी कार्रवाई की बात कही गई है।
हितग्राहियों का कहना है कि उनका शौचालय ग्राम पंचायत ने बनाया है और उन्होंने सप्लायर से सीधे मटेरियल नहीं लिया है और उनके खाते से बारह हजार की राशि निकाली जा चुकी है।
जनपद पंचायत अध्यक्ष रईस खान ने स्वच्छता समन्वयक मनीष सोनी, उपयंत्री विनोद बाथव, सचिव मेहताब मेंहगिया, रोजगार सहायक, नोटिस देन वाले अधिवक्ता के साथ बैठक कर प्रत्येक हितग्राही से चर्चा की जिसमें बताया गया कि कोहका के आसपास रेत, ईंट सीमेंट उपलब्ध नहीं है और अन्य स्थानों से अधिक राशि पर निर्माण सामग्री मिलती है। इसलिए हितग्राही शौचालय निर्माण में रूचि नहीं लेते है आपसी सहमति से तय हुआ कि सरपंच शौचालय बनाकर देंगी और निर्माण पूरा होने पर हितग्राही सरपंच को राशि देगा। अधिकांश हितग्राहियों ने बताया कि शौचालय बनने पर उनके खाता से राशि निकाली जा चुकी है। सरपंच ने मटेरियल सप्लायर को भुगतान नहीं किया है तो हितग्राही को नोटिस देने का औचित्य नहीं है।
सोहनलाल ठाकरे ने बताया कि कई हितग्राही राशि निकालने कियोस्क नहीं गए इसके बाद भी उनके खाते से राशि निकल गई है। इस संबंध में जनपद अध्यक्ष रईस खान ने बताया कि यह सरपंच और मटेरियल सप्लायर के बीच का मामला है हितग्राही को नोटिस नहीं दिया जाना चाहिए लेकिन कुछ योजनाओ मेें राशि मांगने की शिकायत ग्रामीणों द्वारा की गई है इसलिए इसकी जांच कराई जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned