Legal: दिव्यांग को भी विधिक सहायता का अधिकार, कहां से मिलेगी पढ़ें यह खबर

तीन ग्राम पंचायतों को ऑनलाइन जोड़कर विधिक जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया।

By: babanrao pathe

Updated: 18 Oct 2020, 01:12 PM IST

छिंदवाड़ा. तीन ग्राम पंचायतों को ऑनलाइन जोड़कर विधिक जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में बताया गया कि मानसिक रोगियों और विकलांग व्यक्तियों को भी विधिक सहायता प्राप्त करने का अधिकार है।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष बीएस भदौरिया के मार्गदर्शन में मानसिक रूप से बीमार और मानसिक रूप से विकलांग व्यक्तियों के लिए विधिक सेवाएं एवं महिलाओं के अधिकार विषय पर ऑनलाइन विधिक जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया। जागरुकता कार्यक्रम में ग्राम पंचायत शिकारपुर, महलपुर एवं गांगीवाड़ा को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण छिंदवाड़ा ने ऑनलाइन जोड़ा गया। विधिक साक्षरता शिविर में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण छिंदवाड़ा के सचिव एवं अपर जिला न्यायाधीश अरविंद गोयल ने रिमोट प्वाइंट पर मौजूद ग्रामीणों को
सम्बोधित करते हुए कहा कि मानसिक रोग एक सामान्य प्रकार का रोग है जिसका उचित इलाज कराए जाने पर व्यक्ति पूर्ण स्वस्थ्य हो सकता है। समाज में बहुत बड़ी भ्रांति है कि मानसिक रोगी स्वस्थ्य नहीं हो सकता है। नालसा मानसिक रूप से अस्वस्थ्य को विधिक सहायता योजना के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। इसके साथ ही गोयल ने सम्बोधित करते हुए उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम के विषय पर बताया कि इस अधिनियम में उपभोक्ताओं के अधिकारों को बल दिया गया है। यदि आपके अधिकारों का हनन होता है तो आप उसके खिलाफ शिकायत कर सकते हैं।

Show More
babanrao pathe Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned