बंद रहेंगे अस्पताल और नहीं मिलेगी चिकित्सकीय सेवाएं, जानें वजह

बंद रहेंगे अस्पताल और नहीं मिलेगी चिकित्सकीय सेवाएं, जानें वजह

Dinesh Sahu | Publish: Jun, 16 2019 01:15:15 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

आइएमए के आव्हान पर 24 घंटे चलेगा आंदोलन

छिंदवाड़ा. पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में चिकित्सकों पर हुए जानलेवा हमले के विरोध में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने 17 जून 2019 को राष्ट्रीय स्तर पर चौबीस घंटे चिकित्सकीय सेवाएं बंद रखकर विरोध प्रदर्शन करने का आव्हान किया है। इसमें आइएमए छिंदवाड़ा के पदाधिकारियों ने शनिवार बैठक कर हड़ताल का समर्थन किया है तथा सोमवार सुबह 6 से हड़ताल पर जाने की सहमति दी है।

 

हालांकि हड़ताल अवधि में मरीजों को इमरजेंसी सेवाएं मिलती रहेगी। उल्लेखनीय है कि एनआरएस मेडिकल कॉलेज कलकत्ता के जूनियर डॉक्टरों पर 85 वर्ष के मरीज की मौत पर परिवारजनों के करीब दो सौ लोगों ने जानलेवा हमला किया। इस घटना में एक चिकित्सक के सिर पर गहरी चोट आने से वह गंभीर स्थिति में है।

 

आइएमए सचिव डॉ. सुधीर शुक्ला ने बताया कि एसोसिएशन ने पश्चिम बंगाल में हुई घटना के आरोपियों को तत्काल सजा देने, चिकित्सकों पर हिंसा विरुद्धी कानून के तहत कार्रवाई करना, आरोपियों को कम से कम सात वर्ष की जेल समेत अन्य कार्रवाई करने की मांग रखी है।

 

सीएमएचओ ने दिए व्यवस्था बनाने के निर्देश -

 

आइएमए की हड़ताल को ध्यान में रखते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जेएस गोगिया ने जिले के समस्त विकासखंड चिकित्सा अधिकारियों को चिकित्सकीय सेवाएं बाधित न हो इसके लिए उचित व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए है। साथ ही हड़ताल अवधि में आकस्मिक सेवाएं संचालित रखने की हिदायत दी है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned