scriptDo you have anydesk app in your mobile too? | क्या आपके मोबाइल में भी है एनीडेस्क ऐप, तुरंत डिलीट कर दें यह एप | Patrika News

क्या आपके मोबाइल में भी है एनीडेस्क ऐप, तुरंत डिलीट कर दें यह एप

आपके मोबाइल में भी यदि एनी डेस्क एप है तो तुरंत डिलीट कर दें...। यहां पढ़ें ठग और पत्रिका के बीच हुई बातचीत के अंश...।

 

छिंदवाड़ा

Updated: June 21, 2022 03:11:46 pm

छिंदवाड़ा. बिजली कम्पनी के नाम से इन दिनों लोगों को वाट्सऐप में कनेक्शन काटने के मैसेज भेजे जा रहे हैं। मैसेज में उसी रात कनेक्शन काटने की चेतावनी लिखी होती है। इसकी वजह पिछले माह के बिजली बिल को अपडेट नहीं करना बताया जाता है। इसके साथ ही लोगों को बिजली अधिकारी के नम्बर पर कॉल करने की सलाह दी जाती है। पत्रिका टीम के एक सदस्य को वाट्सऐप पर मैसेज आया। उन्होंने जब दिए गए नम्बर पर बात की तो बिजली कम्पनी के नाम से होने वाले फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ।

anydesk_app.png

मैसेज वाले नम्बर से बात करने पर बिल को अपडेट करने के नाम से एनीडेस्क ऐप अपलोड करने के लिए कहा गया। पत्रिका रिपोर्टर के जिस वाट्सऐप नम्बर पर मैसेज आया, वह नम्बर बिजली कम्पनी के आईवीआरएस से लिंक ही नहीं है। साथ ही उस नम्बर से कोई मीटर कनेक्शन भी नहीं है। बाद में जब रिपोर्टर ने दूसरे मोबाइल नम्बर से बात की तो ठग ने खुद को भोपाल बिजली कम्पनी का अधिकारी बताते हुए मैसेज भेजा जाना स्वीकारा।

दरअसल, ठग को खुद ही नहीं पता था कि उसने जहां मैसेज भेजा है वह स्थान किस विद्युत वितरण कम्पनी के क्षेत्र में आता है। इसके बावजूद उसने बात करते हुए एनीडेस्क ऐप अपलोड करने के लिए कहा। उस व्यक्ति ने इलेक्ट्रिसिटी एनीडेस्क लोड करने के बाद बिल को अपडेट करने का दावा किया।

यह भी पढ़ेंः

मोबाइल में एप डाउनलोड करते ही अकाउंट हो गया खाली, आप भी रहें सतर्क

पत्रिका: आपका मैसेस आया कि रात को बिजली कनेक्शन काट दिया जाएगा।
ठग: हां, आपका बिजली बिल जमा नहीं हुआ है।
पत्रिका: पर मैंने तो पिछले माह बिल जमा किया था।
ठग: बिजली बिल यहां से अपडेट नहीं हुआ है।
पत्रिका: आप कहां से बोल रहे हैं?
ठग: मैं एमपीइबी भोपाल से बिजली अधिकारी बोल रहा हूं।
पत्रिका: हमारा शहर तो पूर्व क्षेत्र जबलपुर अंतर्गत आता है।
ठग: हां, भोपाल के अंतर्गत सभी आते हैं।
पत्रिका: मेरा बिजली बिल अपडेट कैसे होगा।
ठग: आपको इलेक्ट्रिसिटी एनीडेस्क ऐप लोड करना होगा। मैं आपको बताता हूं। आप मोबाइल को स्पीकर मोड में कर लो।
पत्रिका: जी, मैंने स्पीकर ऑन कर लिया।
ठग: अब प्ले स्टोर में जाकर इलेक्ट्रिसिटी एनीडेस्क टाइप करो।
पत्रिका: जी, टाइप कर लिया।
ठग: अब एनीडेस्क ऐप दिख रहा होगा, उसे इंस्टाल करो।
पत्रिका: जी, सुना है एनीडेस्क ऐप से मोबाइल का कंट्रोल आपके हाथ में आ जाएगा।
ठग: नहीं, ऐसा कुछ नहीं है। सब कुछ आप को ही करना है। मुझे कुछ नहीं करना है।
पत्रिका: ओके, एनीडेस्क ऐप का जो यूनिक नम्बर आएगा वह मैं नहीं बताउंगा।
ठग: उसे तो बताना ही पड़ेगा। उसके बिना आपका पिछला बिल अपडेट नहीं होगा।
पत्रिका: परंतु उस नंबर को बताते ही मेरे मोबाइल का पूरा इस्तेमाल आप करने लगोगे। मुझे यह पता है।
इसके बाद ठग फोन कट कर देता है।


क्या है एनीडेस्क ऐप:

एनीडेस्क ऐप अपलोड करने के बाद यदि उसका यूनिक नम्बर दूसरे एनीडेस्क ऐप अपलोड करने वाले व्यक्ति को दे दिया तो आपके मोबाइल का पूरा कंट्रोल उस व्यक्ति के पास पहुंच जाएगा। इसके बाद वह आपके मोबाइल में किसी भी ऐप या डिजिटल पेमेंट ऐप से छेड़छाड़ कर सकता है। ऐप का यदि सार्थक उपयोग किया जाए तो किसी भी कम्प्यूटर में सॉफ्वेयर संबंधीसमस्या के आने पर उसे हजारों किमी दूर बैठा कम्प्यूटर विशेषज्ञ हल कर सकता है। इसके लिए कम्प्यूटर को कहीं भी ले जाने की जरूरत नहीं होती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: बीजेपी की कोर ग्रुप की बैठक खत्म, रवि शंकर प्रसाद ने नीतीश कुमार से पूछा बीजेपी के साथ क्यों आए थे?Bihar New Govt: नीतीश कुमार CM, डिप्टी CM व होम मिनिस्ट्री राजद के पाले में, कांग्रेस से स्पीकर बनाए जाने की चर्चाBihar Politics: 2024 में नीतीश कुमार नहीं होंगे विपक्ष के पीएम उम्मीदवार, कांग्रेस नेता ने ट्वीट कर खोला राज'मुफ्त रेवड़ी' कल्चर मामले में सुप्रीम कोर्ट में आमने-सामने AAP और BJP, आम आदमी पार्टी ने कहा- PM मोदी ने 'दोस्तवाद' के लिए खाली किया देश का खजानाMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपJharkhand News: रांची के बुंडू में सड़क हादसा, ट्रक ने छात्राओं को रौंदा, 3 बच्चों की मौत, 1 घायलबिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल का आरोप, नीतीश कुमार ने NDA और BJP को धोखा दियाMaharashtra: सीएम एकनाथ शिंदे अपनी ‘मिनी’ टीम का सितंबर में करेंगे विस्तार, सामने आई यह बड़ी अपडेट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.