जिले में चल रहे थे डुप्लीकेट स्कूल...किए गए बंद, जानें वजह

- जिला मिशन संचालक ने जारी किए आदेश

By: Dinesh Sahu

Published: 24 Jul 2020, 03:01 PM IST

छिंदवाड़ा/ राज्य शिक्षा केंद्र अंतर्गत संचालित जिले के 75 शासकीय, गैर अनुदान प्राप्त अशासकीय एवं अनुदान प्राप्त अशासकीय स्कूलों को बंद करने का निर्णय लिया गया है। इस संदर्भ में जिला मिशन संचालक कलेक्टर छिंदवाड़ा ने गुरुवार को आदेश जारी कर दिए है।

जिला शिक्षा अधिकारी अरविंद्र चौरगड़े ने स्कूलों को बंद करने की वजह एक शाला एक परिसर में स्कूलों का मर्ज होना, डुप्लीकेट स्कूल होना अथवा शून्य नामाकंन होना बताया है। डीइओ चौरगड़े ने बताया कि शासन के आदेश के बाद चिन्हित सभी स्कूलों को यूडाइस, स्कूल एजुकेशन पोर्टल एवं समग्र शिक्षा पोर्टल पर बंद कर दिया गया है।


फैक्ट फाइल -


1. शून्य दर्ज संख्या वाले स्कूल -


- ब्लाक अमरवाड़ा के चार स्कूल, बिछुआ के तीन स्कूल, छिंदवाड़ा के 21, चौरई के 7, हर्रई के दो, जुन्नारदेव के पांच, मोहखेड़ के सात, पांढुर्ना के 09, परासिया का एक, सौंसर के छह तथा तामिया के पांच स्कूल शामिल है।


2. एक शाला एक परिसर में मर्ज स्कूल -


- सौंसर से एक तथा अमरवाड़ा से दो स्कूल शामिल है।


3. डुप्लीकेट स्कूल -


- अमरवाड़ा से सरस्वती विद्या भूमि स्कूल तथा बिछुआ का पीएस एलबीएस चौरेपत्थर स्कूल शामिल है।

Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned