मध्यप्रदेश अस्थायी प्राध्यापक संघ ने मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन

मप्र अस्थायी प्राध्यापक संघ

छिंदवाड़ा / मध्यप्रदेश अस्थायी प्राध्यापक संघ जिला इकाई ने शनिवार को नियमितिकरण की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। जिला इकाई के पदाधिकारियों का कहना है कि प्रदेश सरकार ने चुनाव के पूर्व जारी वचन-पत्र में शासकीय कॉलेजों में दशकों से कार्यरत अतिथि विद्वान, ग्रंथपाल, क्रीड़ा अधिकारियों को नियमित करने का वचन दिया था, लेकिन शासन पूर्व सरकार द्वारा असंवैधानिक रूप से कराई गई परीक्षा से चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति दे रही है। ऐसे में दशकों से कॉलेजों में कार्यरत अतिथि विद्वानों के हितों पर कुठाराघात किया गया है।
शासन के इस कृत्य से हजारों परिवार के समक्ष जीवन यापन की समस्या उत्पन्न हो गई है एवं प्रदेश के हजारों युवा बेरोजगार हो गए हैं। इकाई ने कलेक्टर से आग्रह किया है कि उनकी मांगों को मुख्यमंत्री से अवगत कराकर निराकरण कराएं।

सांसद की अनुशंसा पर 66 लाख मंजूर
कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा द्वारा सांसद नकुलनाथ की अनुशंसा एवं संबंधित जनपद पंचायत के सहायक यंत्री के प्राक्कलन में दी गई तकनीकी स्वीकृति के आधार पर वर्ष 2019-20 के लिए तीन जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को 67 निर्माण कार्यों के लिए 91 लाख रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान करते हुए प्रथम किस्त की राशि 66 लाख 25 हजार रुपए आवंटित कर दी गई है।

chandrashekhar sakarwar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned